पेड़ों से ट्री गार्ड हटा दीमक की दवाई लगाकर नहीं बचाया गया तो करप्शन फ्री इंडिया एवं पर्यावरण प्रेमी प्रदर्शन करेंगेः चौधरी प्रवीण भारतीय

 


विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले सेक्टर जू, म्यू, ओमीक्रॉन सिगमा आदि सेक्टरों में बनी हुई ग्रीन बेल्ट एवं 130 मीटर रोड के बीचो बीच लगे हुए लाखों पेड़ों में प्राधिकरण के अधिकारियों की लापरवाही से लगी दीमक के कारण पेड़ जड़ से ही नष्ट हो रहे हैं। इस समस्या के समाधान की मांग को लेकर करप्शन फ्री इंडिया के कार्यकर्ताओं ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ए.सी.ई.आ.े दीपचंद को पत्र सौंपकर कार्यवाही की मांग की है।  करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ग्रेटर नोएडा के विभिन्न सेक्टरों में लाखों पेड़ अब से 20 वर्ष पूर्व लगे थे। जिनकी देखरेख का जिम्मा ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के कंधों पर है लेकिन प्राधिकरण के अधिकारियों की लापरवाही एवं भ्रष्टाचार के कारण लाखों पेड़ दीमक की भेंट चढ़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो प्रदेश सरकार एवं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण हर वर्ष लाखों पौधे रोपित कर विश्व रिकॉर्ड बना रहे हैं। लेकिन 20 वर्ष पूर्व लगे पेड़ों की देखभाल में लापरवाही एवं भ्रष्टाचार हो रहा है। उन्होंने बताया कि इन्हीं पौधों की रक्षा के लिए (ट्री गार्ड) पौधा रक्षा कवच लगाए गए थे। जिससे कि पेड़ की रक्षा हो सके। लेकिन उनको सही समय पर नहीं निकालने के कारण वही रक्षा कवच की लोहे की पत्तियां पेड़ों के बीच तना में आ चुकी है जिसकी वजह से पेड़ कमजोर हो गए हैं। हल्की सी आंधी में ही पेड़ गिर जाते हैं। ट्री गार्ड की वजह से पेड़ों का दम घुट रहा है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि जल्द ही इन पेड़ों से ट्री गार्ड एवं दीमक की दवाई लगाकर इन पेड़ों को नहीं बचाया गया तो करप्शन फ्री इंडिया संगठन के कार्यकर्ता एवं पर्यावरण प्रेमी ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण कार्यालय पर प्रदर्शन करेंगे और जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। इस मौके पर संस्थापक सदस्य आलोक नागर,प्रदेश अध्यक्ष बलराज हूण, मास्टर दिनेश नागर, रिंकू भाटी ,हबीब सैफी आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।