आई0टी0एस0 में इन्नोवेशन को बढ़ावा देने के लिएं सेंटर ऑफ इन्नोवेशन और इनक्यूवेशन एवं इंटरप्रेन्योशिप की, की गई है, स्थापनाः डा0 विकास सिंह

 


मौहम्मद इल्यास/ग्रेटर नोएडा

आई0टी0एस0 इन्जीनियरिंग कॉलेज के नाम एक और उपलब्धि जुड गई है। आई0टी0एस0 इन्जीनियरिंग कॉलेज के इन्नोवेशन सेल को भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के इन्स्टीट्यूशनल इन्नोवेशन काउंसिलिंग ने 5 स्टार रेटिंग दी है। रेटिंग की घोषणा शिक्षा मंत्रालय के इन्नोवेशन सेल (एमआईसी) और एआईसीटीई द्वारा आयोजन वार्षिक प्रदर्शन रेटिंग इन्स्टीट्यूशनल इन्नोवेशन काउंसिलिंग (आईआईसी) के कार्यक्रम की वार्षिक प्रदर्शन रेटिंग में मुख्य अतिथि व केंद्रीय शिक्षा मंत्री डा0 रमेश पोखरियाल निशंकऔर संजय सामराव, राज्य शिक्षा मंत्री ने की। कलेण्डर वर्ष 2019-20 में कॉलेज परिसर में इन्नोवेशन सेल और स्टार्टअप को बढ़ाबा देने के लिए तथा दूसरे संस्थानों को सलाह देने के लिए एमटीएस के रूप में कॉलेज को भारत के शीर्ष 125 संस्थानों में सूचीबद्ध किया गया है, जिसके फलस्वरूप आई0टी0एस0 को उत्तरी क्षेत्र के कॉलेजो में प्रथम स्थान दिया गया है। यह रेटिंग संस्थान के इन्नोवेशन और स्टार्टअप के क्षेत्र में किऐ जा रहे उत्कृष्ट कार्यों को देखते हुए दी गई है। इन्नोवेशन काउंसिलिंग ने इन्नोवेशन, छात्रों की प्रतिभागिता, कैंपस गतिविधियों सहित अन्य मानकों को आधार मानते हुए कॉलेज के इन्नोवेशन सेल को 100 में से 95.83 अंक प्राप्त दिए हैं। यह छात्रों के इन्नोवेटिव एवं क्रिएटिव माइंडसेट, प्राध्यापकों और संस्थान की ओर से की गई पहल से यह संभव हो पाया है। आई0टी0एस0 इन्जीनियरिंग कॉलेज के डायरेक्टर डा0 विकास सिंह ने बताया कि शिक्षा मंत्रालय का उद्देश्य छात्र और समाज को इन्नोवेशन के लिए प्रेरित करना है, इसलिए इन्नोवेशन काउंसिलिंग बनाया गया है। आई0टी0एस0 लगातार इन्नोवेशन को बढ़ावा दे रहा है जिसके फलस्वरूप कॉलेज परिसर में सेंटर ऑफ इन्नोवेशन और इनक्यूवेशन एवं इंटरप्रेन्योशिप की स्थापना की गई है। प्रोफेसर सौरभ कुमार ने बताया कि संस्थान में लघु शूक्ष्म और मध्यम उद्यम मं़त्रालय से जुड़ी गतिविधियां हो रहीं हैं। संस्थान की ओर से बूट कैंप, आइडिया चैलेंज, स्टार्टअप कल्चर और छात्रों के बीच प्रतियोगिताएं कराई जा रहीं हैं और साथ ही हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर है।