जन आंदोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमवीर सिंह आर्य ने मंगल दिवस तहसील दादरी में ऑनलाइन फीस जमा की किए जाने की, की मांग



विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

जन आंदोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमवीर सिंह आर्य ने मंगल दिवस तहसील दादरी में जिलाधिकारी के नाम संबोधित पत्र देते हुए बताया कि मिहिर भोज पी.जी. कॉलेज दादरी में सैकड़ों छात्र छात्राओं को प्राचार्य के तुगलकी फरमान की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पत्र में मांग की गई है कि प्राचार्य के तुगलकी फरमान को निरस्त कराते हुए प्राचार्य को आदेशित कर छात्र.छात्राओं को कोरोना काल में ऑनलाइन फीस का लिंक खुलवा कर लाभ दिलाने की कृपा करें। पत्र में जन आंदोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमवीर सिंह आर्य ने जिलाधिकारी को अवगत कराया है कि दादरी नगर के एकमात्र मिहिर भोज पी.जी.् कॉलेज में सैकड़ों छात्र छात्राओं को प्राचार्य के दुगलकी फरमान की वजह से कोविड.19 काल में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, क्योंकि प्रत्येक वर्ष छात्रों को फीस जमा करने के लिए साइबर कैफे, ऑनलाइन व नेट बैंकिंग इत्यादि की सुविधा लेने से फीस आसानी से ऑनलाइन जमा हो जाती थी, लेकिन मिहिर भोज पी.जी. कॉलेज दादरी प्राचार्य द्वारा फीस का ऑनलाइन लिंक नहीं खोला गया जिसकी वजह से द्वितीय व तृतीय वर्ष के छात्रों को भारतीय स्टेट बैंक में डायरेक्ट फीस जमा करने का आदेश दिया है। दादरी के भारतीय स्टेट बैंक में आम दिनों के साथ साथ अब कोविड.19 में भारी भीड़ से भरा रहता है। अब इस कोरोना काल में प्रत्येक दिन 300 से 400 छात्रों को लाइन में लगने पर मजबूर होना पड़ रहा है क्योंकि फीस जमा करने के लिए सुबह 8.00 बजे से ही लाइन में लगना पड़ता है। छात्र छात्राओं को 4 घंटे से 8 घंटे छात्रों की समय की बर्बादी हो रही है। प्रधानमंत्री योजना डिजिटल इंडिया को भी आईना दिखाया जा रहा है। जिले के अन्य कॉलेजों में ऑनलाइन फीस जमा की जा रही है, लेकिन मिहिर भोज पी.जी. कॉलेज दादरी में ऑनलाइन की सुविधा नहीं है।