एक सप्ताह के अदंर कठेहरा गांव में विकास कार्य शुरू नही कराए गए तो मुख्य विकास अधिकारी और ज़िलाअधिकारी कार्यालय का घेराव करेंगेः मनीष भाटी बी.डी.सी.

 





विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा


मनीष भाटी बी.डी.सी. ने कहा कि गांव के सेकेटरी से लेकर ब्लाक तक और विकास भवन तक कई बार शिकायत पत्र सीनियर अधिकारियों को दिया लेकिन अधिकारियों पर कोई असर नहीं दिख रहा है। सरकार करोड़ों रुपये गांवों के विकास ख़र्च कर रही है परंतु अधिकारियों के कारनामे सामने सिर्फ़ काग़ज़ों में ही विकास हो रहा है। उन्हांने बताया कि गांव में शमशान घाट,तालाब की साफ सफाई, मुख्य रास्ते,नालियां आदि विकास कार्य धरातल पर नही दिखाई दे रहे हैं। इससे सभी गांव वाले अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। दादरी से लेकर कठेहरा तक ज़्यादातर सड़के भी टूटी पड़ी है, साफ़ सफ़ाई नहीं हो रही है और रोड़ों के किनारे झाड़ियां उगी पड़ी है। मुख्यमंत्री योगी के गढ्ढा मुक्त किए जाने के आदेशों को अधिकारी जमकर पालिता लगाने में कोई कसर नहीं छोड रहे है। प्रशासन की इस अनदेखी के कारण ग्रामवासियों को रास्ते में निकलने में बड़ी परेशानी हो रही है। मंदिर जाने के लिए भी कई बार भक्त पानी के गढ़ों में गिर गए हैं। कई बार तहसील दिवस पर भी शिकायत कर चुके है ग्रामवासी पर समस्या का हल नहीं निकला। हल्की फुल्की बारिश से रोड़ों पर पानी भर जाता है, सड़कें टूटीं होने की वजह मुख्य रास्ते पर पानी गडढ़ो में भरा रहता है। दूसरी ओर इससे बीमारियां बढ़ने का ख़तरा बना रहता है। यहां कठेहरा गांव का मुख्य रास्ता कई गांवो को जोड़ता है। मनीष भाटी बी.डी.सी. ने गौतमबुद्धनगर प्रशासन को चेताते हुए कहा कि यदि एक सप्ताह के अदंर कठेहरा गांव में यह सभी विकास कार्य शुरू नही कराए गए तो ग्रामीण मुख्य विकास अधिकारी और ज़िलाअधिकारी कार्यालय का घेराव करने के लिए मजबूर हो जाएंगें। कठेहरा गांंव स्वर्गीय राव उमराव सिंह भाटी स्वतंत्रा सेनानी का गांव है जिन्होंने प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजो को भी चने चबवा दिए थे।