फेडरेशन ऑफ आर.डब्ल्यू.ऐज़. ग्रेटर नोएडा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ग्रेटर नोएडा की आर.डब्ल्यू.ए और सामाजिक संगठनों के साथ बैठक कर तैयार की रूपरेखा



ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण बजट में कटौती करते हुए आर.डब्ल्यू.ऐज.़ व जनता के ऊपर अतर्कसंगत नियमो को बिना सहमति के थोपने में लगाः दीपक कुमार भाटी



विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

फेडरेशन ऑफ आर.डब्ल्यू.ऐज़. ग्रेटर नोएडा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ग्रेटर नोएडा की आर.डब्ल्यू.ए के पदाधिकारीगण व शहर के सामाजिक संगठनों के अध्यक्षों के साथ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के द्वारा नित प्रतिदिन नए नए अतर्कसंगत नियमो को आर.डब्ल्यू.ए. व ग्रेटर नोएडा शहर के निवासियों के ऊपर थोपने के संबंध में एक बैठक की। इस बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की बैठक में शहर की लगभग 28 आर.डब्ल्यू.ए. के पदाधिकारियों व शहर के सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने अपने विचार रखे। फेडरेशन ऑफ आर.डब्ल्यू.ऐज़. महासचिव दीपक कुमार भाटी ने बैठक को संबांधित करते हुए कहा कि पिछले कुछ समय से ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के मुख्यकार्यपालक अधिकारी द्वारा निरंतर सेक्टरो के विकास कार्यो के बजट में कटौती की जा रही है। वह रोज अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ कर शहर की आर.डब्ल्यू.ऐज.़ व जनता के ऊपर अतार्किक व अतर्कसंगत नियमो को बिना सहमति के थोपने में लगे हुए हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण लीज डीड व अपने बनाए हुए नियमो से भाग रहा है। करप्शन फ्री इंडिया के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों का रवैया आमजन के प्रति ठीक नही है। यहां ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी जनता के नौंकर हैं न की जनता के मालिक, करप्शन फ्री इंडिया संगठन फेडरेशन के साथ हैं। महिला शक्ति उत्थान मंडल की अध्यक्ष श्रीमती रूपा गुप्ता ने कहा कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों का रवैया शहर को बसाने का नही हैं बल्कि उजाड़ने का है। छोटे छोटे कार्यो के लिए धरने पर बैठने के बाद कार्यवाही हो रही है। आर.डब्ल्यू.ए .के लोग बिना किसी वेतन के निस्वार्थ शहर के विकास में योगदान दे रहे है, लेकिन प्राधिकरण इनको आपस मे लड़ाना चाहता है। महिला शक्ति सामाजिक समिति की अध्यक्ष श्रीमती साधना गुप्ता ने कहा कि महिला शक्ति सामाजिक समिति पूरी तरह से फेडरेशन के साथ हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का बिना सहमति व विचार के संगठनों के ऊपर जिम्मेदारी थोपना सरासर गलत है। फेडरेशन ऑफ आर.डब्ल्यू.ऐज संयुक्त सचिव आजाद अधाना ने कहा कि कोई भी  ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के नियमो से सहमत नही है। जिन आर.डब्ल्यू.ए. को मान्यता देने बताया गया है उनके साथ प्राधिकरण ने धोखा किया है, बिना नियमो को बताए फॉर्म लिया था,वह लोग अपना विरोध लिखित रूप में दर्ज कर चुके है। इसके साथ ही बैठक में जुडे सभी लोगो ने एक सुर में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के गलत निर्णयों का विरोध किया और कहा कि अगर 15 दिनों में इन गलत निर्णयों को वापस नही लिया तो शहर की सभी आर.डब्ल्यू.ए. व सामाजिक संगठनों के लोग मुख्यमंत्री से मुख्य कार्यपालक अधिकारीके ट्रांसफर की मांग करेंगी। इस मौके पर बैठक में में फेडरेशन के कोषाध्यक्ष मनीष भाटी बी.डी.सी. और धर्मवीर नागर, परितोष भाटी,डा0 राकेश, अजब सिंह प्रधान, सतीश शर्मा, संतराम भाटी, मुलेन्द्र, कर्मवीर फौजी,सतेंद्र हूण, राकेश त्यागी,सुधीर चौधरी, बीरेश बंसल,सतीश, कैलाश भाटी आदि आर.डब्ल्यू.ए. व सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी व सदस्यगण शामिल हुए।