गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी कैंपस में एस.आई.ए. कमेटी के प्रमुख डाक्टर ओम प्रकाश से किसान प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

दिल्ली मुंबई औद्योगिक कॉरिडोर यानी डीएमआईसी से प्रभावित चिटहेरा, कठेड़ा,पल्ला, पाली एवं बोडाकी गांव के किसानों के प्रतिनिधि मंडल ने डीएमआईसी परियोजना हेतु जमीन लिए जाने के लिए गठित सामाजिक प्रभाव का आकलन अर्थात एस.आई.ए. कमेटी के प्रमुख डाक्टर ओम प्रकाश से जीबीयू के कैंपस में मुलाकात की। इस मुलाकात में किसानों ने नए भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के सभी लाभ दिए जाने की मांग के अनुसार रिपोर्ट तैयार किए जाने पर जोर दिया। एस.आई. ए. कमेटी की ओर से जीबीयू के प्रोफेसर डॉक्टर ओम प्रकाश ने भरोसा दिया कि अक्टूबर महीने में पांचो गांव का सर्वे किया जाएगा और खुली मीटिंग करके सभी किसानों के दावे सुने जाएंगे और प्रशासन की मध्यस्थता में रिपोर्ट तैयार करके सरकार को भेज दी जाएगी। किसानों ने नए भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के अनुसार बाजार दर का चार गुना मुआवजा, 20 प्रतिशत प्लाट, किसानों के सभी बच्चों को रोजगार तथा भूमिहीन,गरीबों को भी पुनर्वास की व्यवस्था किए जाने और गांवों का विकास सेक्टरों की तर्ज पर किए जाने की मांग रखी। इस मौके पर जय जवान जय किसान मोर्चा के संयोजक सुनील फौजी एडवोकेट एवं कठेड़ा किसान संघर्ष समिति के संयोजक मनीष भाटी बी.डी.सी. एवं पल्ला किसान संघर्ष समिति के राजू भाटी, छात्र नेता अंकित भाटी, रामवीर पाली व संजय भाटी बोड़की आदि किसान मौजूद रहे।