अब तक जिल में 1260 लोग संक्रमित, 660 ने जीती जंग, 18 की मौत, 584 का इलाज जारी

विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर
गौतमबुद्धनगर प्रशासन की तमाम पाबंदियों के बावजूद जिले में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ती ही जा रहा है और कोरोना कहर के बीच संक्रमितों की संख्या 1260 तक जा पहुंची है। एक तरह से लॉकडाउन 5.1 में अनलॉक किए जाने का यह साइड इफेक्ट खतरे की घंटे का साफ संकेत है। शक्रवार को 89 लोगों में कोविड.19 के संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 1260 हो गई है। इनमें 88 क्रॉस नोटिफाइड हैं। इस बीच संक्रमण से दो और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही जिले में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 18 हो गई है। शुक्रवार को स्वस्थ होने के बाद 56 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया। इसके साथ ही अब तक स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 660 हो गई है। फिलहाल 584 लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। जिला सर्विलांस अधिकारी डा0 सुनील दोहरे ने बताया कि शुक्रवार को गौतमबुद्धनगर में कुल 89 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1260 हो गई है। जिले में क्रॉस नोटिफाइड मरीजों की संख्या भी बढ़कर 88 हो गई है। उन्होंने बताया कि जिले में कोरोना संक्रमण से अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है। शुक्रवार को 28 लोगों ने कोरोना को परास्त जंग जीत ली है। इस तरह अब तक 660 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। फिलहाल 584 पॉजिटिव मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है। डा0 दोहरे ने बताया कि शुक्रवार को दो लोगों की मौत हो गई। डा0 सुनील दोहरे ने बताया कि जिले में क्रॉस नोटिफाइड मरीजों की संख्या बढ़कर 88 हो गई है। इनमें 32 मरीज दिल्ली के, 13 गाजियाबाद, 1 आंध्र प्रदेश, 01 वेस्ट बंगाल, 01 आगरा, 02 हापुड़, 12 बुलंदशहर, 02 अलीगढ़ और 01 हरियाणा के हैं। 10 मरीजों की दो बार एंट्री हुई है। जबकि 13 मरीज की एंट्री पहले ही की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले में कुल 12 संवेदनशील स्थानों पर कैंप लगाकर जांच की जा रही है। उनमें ममूरा, निठारी, सर्फाबाद, हरौला, सेक्टर.8, 9, 10 शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इन स्थानों पर कुल 683 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। उनमें 15 लोगों को बुखार की शिकायत के बाद अस्पताल में दाखिल कराया गया है। डा0 सुनील दोहरे ने बताया कि शुक्रवार की सुबह नई दिल्ली के सुखदेव विहार निवासी 77 साल के व्यक्ति की मौत हो गई। उनका इलाज ग्रेटर नोएडा के एक निजी अस्पताल में चल रहा था। वह कोविड.19 पॉजिटिव थे। उनकी मौत का कारण सेप्टिक शॉक के करण हुई है। उन्होंने बताया कि उनके अलावा दिल्ली के ही विकासपुरी निवासी 24 वर्षीय युवक की भी मौत हुई है। उनका भी इलाज ग्रेटर नोएडा के निजी अस्पताल में चल रहा था। उन्हें भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।