आयुर्वेदिक औषधि, रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने हेतु अमृतादि क्वाथ चूर्ण गौतमबुद्धनगर में पत्रकारों को वितरित किया

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा
विश्व आयुर्वेद परिषद उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष ड़ा0 सुरेन्द्र चैधरी और परिषद के वरिष्ठ सदस्य  भाजपा जिला सह संयोजक चिकित्सा प्रकोष्ठ अमित अधाना द्वारा आयुर्वेदिक औषधि, रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने हेतु अमृतादि क्वाथ चूर्ण गौतमबुद्धनगर में कार्यरत पत्रकार बंधुओं  को वितरित किया गया।  यह काढ़ा आयुष मंत्रालय द्वारा निर्देशित औषधियों से युक्त है। यह यह काढ़ा कॉरोना  को ठीक करने का दावा नहीं करता बल्कि व्याधि क्षमता बढ़ाता है तथा  सामान्य ज्वर, खांसी, शरीर दर्द, थकान में लाभकारी हैं।  कृष्णा अपरा स्थित दैनिक जागरण, अमर उजाला, हिंदुस्तान, देशबंधु आदि समाचार पत्रों के पत्रकार बंधुओं  को इस औषधि के 50-.50 ग्राम के 100 पैकेट प्रदान किए गए। विश्व आयुर्वेद परिषद इस काढ़े को सिकंदराबाद, बुलन्दशहर आदि स्थानों पर कोराना योद्धाओं पुलिसकर्मी,सफाई कर्मचारी, बैंक के अधिकारी और कर्मचारी आदि को भी लगातार वितरित कर रही है। विश्व आयुर्वेद परिषद उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष ड़ा0 सुरेन्द्र चैधरी ने बताया कि गिलोय, मुलेठी, तुलसी, मोथा, लिशोढा, सोंठ, धनिया,अडुसा, भूई आमलकी और दालचीनी युक्त इस औषध के लेने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के अतिरिक्त पाचन भी ठीक रहता है। गिलोय को आयुर्वेद में अमृता कहा गया है। विश्व आयुर्वेद परिषद के द्वारा प्रदेश में जन स्वास्थ्य के क्षेत्र में लगातार काम जारी है। इस औषधि का वितरण लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, मेरठ, मुरादाबाद, हाथरस आदि स्थानों पर भी किया जा रहा है। विश्व आयुर्वेद परिषद ने उत्तर प्रदेश के हर क्षेत्र के लिए 55  चिकित्सकों की एक सूची जनता के लिए निशुल्क चिकित्सा परामर्श के लिए भी जारी की है। गत सप्ताह विश्व आयुर्वेद परिषद ने मुख्यमंत्री राहत कोष में उप मुख्यमंत्री ड़ा0 दिनेश शर्मा के माध्यम से 1,51,000 की धनराशि का योगदान भी किया है। ड़ा0 सुरेन्द्र चैधरी ने इस मौके पर एक नारा भी दिया कि मेरा स्वास्थ्य मेरी जिम्मेदारी, आयुर्वेद अपनाईए, स्वस्थ रहिए। उन्होंने कहा कि इस औषधि को निशुल्क वितरण के तैयार करने में  ड़ा0 अमित अधाना के  आर्थिक सहयोग का परिषद हृदय से आभार प्रकट करता है।