BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

हिन्दुस्तान की संस्कृति, हमें दुनिया की, उन संस्कृतियों में सर्वोच्च स्थान देती है, जिन्होंने इसके लिए प्रयास किया: धीरेंद्र सिंह


Vision Live/Raboopura 
रबूपुरा स्थित शांति देवी राजकीय महाविद्यालय में ट्रिनीडाड एंड टोबैगो के विद्यार्थी अविनाश ने गणेश वंदना, श्रीलंका की इषारा और सेनारी, तजाकिस्तान के मेहरंगेज और थाईलैंड के धनभद्र ने अपनी-अपनी भाषाओं में भजन, सिंहली शास्त्रीय, बांसुरी वादन, इंग्लिश गीत, ताजिकी गीत, भजन और थाईगीत के माध्यम से अद्भुत छठा बिखेरी। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के इस संघटक महाविद्यालय शांति देवी राजकीय महाविद्यालय, जेवर और आगरा के केन्द्रीय हिन्दी संस्थान में संयुक्त रूप से शैक्षणिक चर्चा एवं सांस्कृतिक प्रस्तुतियां में स्थानीय बच्चों के साथ साथ बेलारूस, बुल्गारिया, श्रीलंका, ट्रिनीडाड, टोबैगो, तजाकिस्तान, दक्षिण कोरिया, इजिप्ट, थाईलैंड व रूस के 27 छात्र-छात्राओं ने भी हिस्सा लिया। जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने कार्यक्रम में उपस्थित बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि "मैंने उस मुल्क में जन्म लिया, जिसने दुनिया की सभी संस्कृतियों को सम्मान की नजरों से देखा और जिन्होंने सभी देश के लोगों को अपना भाई मानकर, हमेशा विश्व कल्याण की भावना रखते हुए, ऐसे कई उदाहरण प्रस्तुत किए, जिससे हमारे देश की संस्कृति, हमें दुनिया की, उन संस्कृतियों में सर्वोच्च स्थान देती है, जिन्होंने इसके लिए प्रयास किया।"जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने आगे कहा कि "भारत की संस्कृति, धर्म, भाषा और भारत को समझने के लिए विदेश के छात्र छात्राएं हिंदी भाषा सीखने के लिए लालायित हैं और यहां की विविधता में एकता और लोकतांत्रित मूल्य, विदेशी बच्चों में भी हिंदी सीखने की चाहत पैदा कर रहे हैं। अंत में जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने रबूपुरा स्थित शांति देवी राजकीय महाविद्यालय में पधारे उपरोक्त सभी देशों के 27 बच्चों को "वसुधैव कुटुंबकम" और भगवान श्रीराम का पटका भेंट किया और कहा कि "मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम ने मानव जाति के लिए ऐसे आदर्श स्थापित किए हैं, जिनका अनुसरण हिंदुस्तान के साथ-साथ सभी देशों को भी करना चाहिए तथा यह हिन्दुस्तान वसुधैव कुटुंबकम पर विश्वास करता है।  इस कार्यक्रम में प्रोफेसर नवीन चंद्र लोहानी, प्रधानाचार्य डॉ0 अनुज कुमार अग्रवाल, डॉ0 निर्दोष चौधरी, डॉ0 कल्पना पोसवाल,  अंकित स्वामी, डॉ0 धर्मेंद्र भाटी, डॉ0 ऋचा शुक्ला,  अतुल कुमार, डॉ0 हरीश पाल, डॉ0 सुजीत जी, जितेंद्र कुमार, कुमारी प्रिया, डॉ0 बबली रानी, डॉ0 रश्मि शर्मा, डॉ0 अरविंद कुमार के साथ-साथ पब्लिक इंटर कॉलेज रबूपुरा की प्रधानाचार्या डॉ0 निशा फातिमा, सरस्वती बाल मंदिर से  राजीव गुप्ता , वेद प्रकाश शर्मा, महेश सिंह शर्मा  आदि भी उपस्थित रहे।