BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

ग्रेटर नोएडा ने प्राधिकरण ने छह प्रतिशत भूखंड के लिए पात्रता तय करने को सिरसा में भी लगाया शिविर


70 से अधिक किसानों ने दिए कागजात, जल्द ही अन्य गांवों में भी लगेगा शिविर 
एसआईटी जांच के बाद स्वीकृति लीजबैक के लिए भी किसानों ने किए आवेदन
Vision Live/Greater Noida 
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण जमीन देने वाले किसानों की छह फीसदी भूखंड प्राप्त करने की पात्रता तय करने के लिए शुक्रवार को सिरसा गांव में शिविर का आयोजन किया गया। 70 से अधिक किसानों ने शिविर में आकर अपनी पात्रता निर्धारित करने से जुड़े दस्तावेज सौंपे। प्राधिकरण इनकी पात्रता तय करते हुए भूखंड आवंटित करेगा। प्राधिकरण जल्द ही अन्य गांवों में भी शिविर लगाने के लिए शेड्यूल जारी करेगा। इसके साथ ही इस शिविर में एसआईटी जांच के बाद प्राप्त सही प्रकरणों में लीज बैक करने के लिए किसानों ने आवेदन किए।
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण विकास परियोजनाओं के लिए किसानों की जमीन अधिग्रहित करता है और उसके एवज में प्राधिकरण की तरफ से कुल अधिग्रहित जमीन का 06 फीसदी हिस्सा विकसित करके किसानों को देता है। इसकी पात्रता तय करने के लिए किसानों को प्राधिकरण आना पड़ता है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार ने किसानों को सुविधा प्रदान करते हुए छह फीसदी भूखंड प्राप्त करने की पात्रता तय करने के लिए गांवों में ही शिविर लगाने के निर्देश दिए हैं। इसी क्रम में प्राधिकरण ने शुक्रवार को  सिरसा गांव में शिविर लगाया। प्राधिकरण के ओएसडी हिमांशु वर्मा ने बताया कि भूलेख विभाग और परियोजना विभाग के वर्क सर्किल 8 की टीम सुबह करीब 11 बजे से सिरसा गांव पहुंच गई। टीम ने शिविर में आने वाले 70 से अधिक किसानों के छह फीसदी भूखंड के कागजात प्राप्त किए। शिविर में ही लीज बैक के सही प्रकरणों के आवेदन भी प्राप्त किए गए। किसानों ने गांवों में ही शिविर लगवाने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण सीईओ के पहल की सराहना की है। इस शिविर में गांव से जुड़ी अन्य शिकायतों को भी सुना गया। उनको निस्तारित करने का आश्वासन दिया गया है। शिविर में ओएसडी हिमांशु वर्मा के साथ ही ओएसडी रजनीकांत पांडेय, वरिष्ठ प्रबंधक नागेंद्र सिंह, प्रबंधक राकेश आनंद आदि मौजूद रहे।