BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

उत्तर प्रदेश के युवाओं का कौशल विकास में अहम योगदान: प्रवीर कुमार

Vision Live/Greater Noida 
उत्तर प्रदेश के राजस्व परिषद के अध्यक्ष,  प्रवीर कुमार ने एक आयोजन के माध्यम से राज्य के युवाओं के कौशल विकास और राज्य के नए उत्तर प्रदेश के विकास में उनका महत्वपूर्ण योगदान पर ध्यान केंद्रित किया। 
 प्रवीर कुमार ने उत्तर प्रदेश में हो रहे विकास कार्यों पर प्रकाश डाला, जिन्हें माननीय प्रधानमंत्री एवं माननीय मुख्य मंत्री के नेतृत्व में चौगुनी रूप से आगे बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में विदेशी निवेश के महत्व को समझा गया है और इसके प्रदेश में हो रहे विकास में उनका अहम योगदान है। वे युवाओं के कौशल विकास पर भी ध्यान केंद्रित करते हैं और उच्च शिक्षा के क्षेत्र में नवाचारिता को बढ़ावा देने की बात करते हैं।
छात्रों एवं शिक्षकों को उत्तर प्रदेश में विदेशी निवेश पर एक फ़िल्म दिखाकर उत्तर प्रदेश में चल रहे विकास कार्यों पर प्रकाश डाला गया जो माननीय प्रधानमंत्री एवं माननीय मुख्य मंत्री के नेतृत्व में दिन दूनी रात चौगुनी विकास की ओर अग्रसर हो रहा है।
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता उत्तर प्रदेश राजस्व बोर्ड के अध्यक्ष  प्रवीर कुमार ने उत्तर प्रदेश में हो रहे विदेशी निवेश एवं और उससे प्रदेश में हो रहे विभिन्न विकास कार्यों में प्रकाश डाला और साथ ही “नये उत्तर प्रदेश का विकास, युवाओं का कौशल विकास” पर छात्रों को अपनी बातों को साझा किया। उनके वक्तव्य के मुख्य बिंदु थे: डेस्टिनेशन उत्तर प्रदेश और यह कैसे प्रदेश के लिए लाभकारी होगा, भविष्य में उत्तर प्रदेश और पिछले दिनों हुए विदेशी विनिवेश और उसकी वजह से होने वाले विकास कार्य, उद्योगों में हुए विनिवेश के बहुआयामी परिणाम होते हैं जिनमें मुख्य है रोजगार में वृद्धि, साथ ही उन्होंने ने बल पूर्वक भी कहा की विदेशी विनिवेश का एक बड़ा हिस्सा गौतम बुद्ध नगर में ही होने जा रहे हैं, इत्यादि।

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता के रूप में, उन्होंने उत्तर प्रदेश में हो रहे विदेशी निवेश एवं विभिन्न विकास कार्यों के प्रदर्शन किया। उनके भाषण में डेस्टिनेशन उत्तर प्रदेश के लाभकारी होने की बात थी, और उन्होंने उत्तर प्रदेश में हो रहे विदेशी निवेश के प्रभाव को भी हाल ही में हो रहे विकास कार्यों पर बताया।

इसके अलावा, डॉ इंदु उप्रेती ने विश्वविद्यालय की कौशल विकास के क्षेत्र में कुछ विशेष उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने विश्वविद्यालय की वैश्विक पहचान, इनोवेटिव प्रैक्टिस, ड्रोन तकनीकी, और आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस जैसे क्षेत्रों में काम किया जा रहा है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रो निरंजन प्रकाश मलकानिया ने की, और कार्यक्रम का संचालन डॉ शक्ति शाही ने किया। कार्यक्रम में प्रो संजय शर्मा, प्रो बंदना पांडेय, डॉ विवेक मिश्रा, डॉ मनमोहन सिंह, डॉ सुभोजीत बनर्जी, डॉ दिनेश शर्मा, डॉ ओमवीर सिंह, डॉ विनय लिटोरिया, डॉ ममता शर्मा, डॉ सतीश मित्तल, डॉ भास्वती, डॉ अंसारी, डॉ विक्रांत नैन, डॉ नागेंद्र सिंह, डॉ प्रदीप तोमर, डॉ विमलेश रॉय, इत्यादि उपस्थित थे।