>

बहुप्रतीक्षित समारोह में वर्ष 2017-18 और 2018-19 के दौरान निर्यातकों को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया

 

विजन लाइव/ नई दिल्ली              

 नई दिल्ली में हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) ने 23वें हस्तशिल्प निर्यात पुरस्कार समारोह का आयोजन किया। इस बहुप्रतीक्षित समारोह में वर्ष 2017-18 और 2018-19 के दौरान निर्यातकों को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया। इस आयोजन में ईपीसीएच के अध्यक्ष राज. के. मल्होत्रा के साथ ही देश के कोने कोने से  हस्तशिल्प निर्यातकों ने बड़ी संख्या में शिरकत की। इस मौके पर ईपीसीएच के उपाध्यक्षकमल सोनीईपीसीएच के महानिदेशक और अध्यक्षइंडिया एक्सपोज़िशन मार्ट लिमिटेड राकेश कुमार, EPCH की प्रशासन समिति के सदस्य ने भी आयोजन में भागीदारी की। इस आयोजन के मुख्य अतिथि भारत सरकार में केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योगउपभोक्ता मामलोंखाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और वस्त्र  पीयूष गोयल ने आयोजन की गरिमा बढाई। 

>
>
>


उन्होंने विशिष्ट अतिथि भारत सरकार में माननीय केंद्रीय कपड़ा मंत्री एवं रेल राज्य मंत्री श्रीमती दर्शना विक्रम जरदोश की उपस्थिति में हस्तशिल्प निर्यात पुरस्कार प्रदान किए। इस अवसर पर भारत सरकार के केंद्रीय कपड़ा मंत्रालय में सचिव  उपेंद्र प्रसाद सिंह  आईएएस ने भी अपनी उपस्थिति से आयोजन को गौरवान्वित किया। आयोजन की अध्यक्षता भारत सरकार के कपड़ा मंत्रालय के हस्तशिल्प विकास आयुक्त शांतमनु ने की।  


>

 पीयूष गोयल केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रीउपभोक्ता मामलेखाद्य और सार्वजनिक वितरण और कपड़ाभारत सरकार ने पुरस्कार विजेताओं को बधाई दी और उन्हें अपने उद्यमों के लिए कई गुना विकास की कल्पना करने और काम करने के लिए प्रोत्साहित कियाजो संभावित रूप से उनके साथ जुड़े 30 लाख पंजीकृत जमीनी कारीगरों के विकास और बेहतर आजीविका के लिए है। उन्होंने इस क्षेत्र की गतिशीलता और  राकेश कुमार  महानिदेशक EPCH की विशेष रूप से MICE  इंडिया  एक्सपो सेंटर और मार्ट को चालू करने और हस्तशिल्प क्षेत्र को  केवल एक आत्मनिर्भर बल्कि लाभदायक उद्यम के रूप में चलाने के लिए बधाई दी।

...