>

गौतमबुद्धनगर जिला कांग्रेस के पूर्व महासचिव विक्रम सिंह नागर ने बयान जारी करते हुए यह बात कही

>

विजन लाइव/दनकौर

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पहला बजट पेश किया है और इस बजट में युवाओं और किसानों के साथ धोखा और खोखले वादे किए हैं। गौतमबुद्धनगर जिला कांग्रेस के पूर्व महासचिव विक्रम सिंह नागर ने बयान जारी करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का युवा पिछले 5 साल सें आंदोलनरत है। करीब 69000 शिक्षक पद खाली पड़े हैं साथ ही नौकरियों का एक तरह से अकाल पडने लगा है। देश के गृहमंत्री तो पहले ही पकौडा तलने की बात कहते हुए युवाओं का रोजगार को लेकर खुला मजाक उडा चुके हैं। उत्तर प्रदेश में भाजपा ने चुनाव से पूर्व बिजली बिल आधा किए जाने और साथ ही किसानों को बिजली फ्री दिए जाने का वायदा किया था किंतु अब सरकार बन गई और सब किए गए वायदे हवा हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि फ्री वर्ष 2014 से पूर्व जब भाजपा विपक्ष में हुआ करती थी तो जनता को दिए जाने वाली सहूलियतों को फ्री सौगात और खैरात मजाक उडाया करती थी। जब से केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार की आई है और उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आई है, राशन की योजना जो पहले से ही पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सरकार से चली आ रही थी, डबल इंजन की सरकार में राशन दिया। किंतु चुनाव के बाद अब यह सरकारें गरीबों को आंखे दिखने लगी हैं। उन्हांंने कहा कि एक ओर खुद सीएम योगी फ्री राशन की योजना 3 महीने बढाने की बात करते हैं तो वहीं अफसर राशन कार्ड निरस्त किए जाने और राशन वसूले जाने के लिए बराबर आंखे तरेरने का काम कर हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले डबल की इंजन की सरकार महीने में 2 बार राशन दे रही थी मगर अब चुनाव के बाद महीने में एक बार ही राशन मिलना दूर की बात साबित हो चुकी है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने बजट में युवाओं और किसानों के साथ सिर्फ धोखा और खोखले वादे ही किए हैं।