विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा
ग्रेटर नोएडा वेस्ट की सोसाइटियों मैं आए दिन बिल्डर और फ्लैट निवासियों के बीच में मूलभूत सुविधाओं को लेकर विवाद की स्थिति बनी रहती है ।जिसके लिए नेफोमा टीम सदस्यों ने सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) योगेंद्र सिंह से मुलाकात कर स्थिति से अवगत कराया । की लगभग ज्यादातर सोसायटीओं में मूलभूत सुविधाओं को लेकर जैसे पैसे लेकर फ्लैट न देना,  बिजली, पानी व सोसाइटी में सफाई ना होने की वजह से आए दिन मेंटेनेंस टीम और सोसाइटी निवासियों के बीच में झगड़ा होता रहता है ।सोसाइटी के अंदर कुत्तों को खाना खिलाने या उनको पार्क में टहलाने के लिए आपस में विवाद होते रहते हैं, सोसाइटी में  लिफ्ट सीसीटीवी, इंटरकॉम, फायर सिस्टम काम नहीं करता है, बेसमेंट में पार्किंग चालू नहीं है बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन को लेकर जैसे प्लास्टर गिरने व झड़ने की भी शिकायत अक्सर आती रहती है, बिल्डर मेंटेनेंस चार्ज अपने मुताबिक कभी भी बढ़ा देता है जिससे फ्लैट निवासियों पर बोझ बढ़ता रहता है ।और सुविधाएं भी पूरी तरह से निवासियों को मिलती नहीं है ।जिसकी वजह से सोसाइटी निवासियों में रोष रहता है।सहायक पुलिस आयुक्त एसीपी योगेंद्र सिंह ने बताया कि हम सभी सोसाइटियों में जहां जहां बिल्डर और बॉयर्स के मुद्दों पर विवाद चलता है ।उनका संज्ञान ले रहे हैं जो उचित कार्यवाही होगी वह की जाएगी और जल्द ही उच्च अधिकारियों को अवगत करा कर इन समस्याओं का समाधान निकलवाया जाएगा, जनपद की पुलिस हमेशा हर वक्त जनता के लिए उपलब्ध है।नेफोमा अध्यक्ष अन्नू खान ने बताया ग्रेटर नोएडा वेस्ट की विभिन्न सोसायटीओं में सबसे ज्यादा दिक्कत बिल्डरों द्वारा आधी अधूरी सोसाइटी फ्लैट निवासियों को जो रहने के लिए दी गई है ।इसकी वजह से ही आती है क्योंकि फ्लैट बायर्स ने पूरे पैसे देने के बाद और मेंटेनेंस चार्ज एडवांस जमा करवाने के बाद भी बिल्डर उनको वह सुविधाएं जो उसने अपने एग्रीमेंट में लिखी थी फ़्लेट निवासियों को आधी भी उपलब्ध नहीं करा पा रहा है जिससे यह विवाद की स्थिति उत्पन्न हो जाती है । मीटिंग में नेफोमा सदस्य उमेश सिंह, आशुतोष, अभय जैन, राज चौधरी, श्याम गुप्ता आदि उपस्थित रहे ।