सेक्टर ईकोटेक 12 में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ ने एक प्लांट को  शुरू किया

 


ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ऐसी संस्थांओं से करार करने की कर रहा है, तैयारी


 

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 ग्रेटर नोएडा के पार्कों में आपको जल्द ही प्लास्टिक वेस्ट से बने बेंच, ट्री गार्ड, चिड़िया का घोंसला आदि उत्पाद दिखाई देंगे। शहर के कूड़े से प्लास्टिक निकालकर उसे रीसाइकिल कर ये उत्पाद बनाए जाएंगे। इस तरह के प्लांट ग्रेटर नोएडा में शुरू हो चुके हैं। बृहस्पतिवार को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने ऐसे ही एक प्लांट का शुभारंभ भी किया। दरअसल ग्रेटर नोएडा में रोजाना करीब 250 से 300 टन कूड़ा निकलता है। इस कूड़े  में 50 फीसदी गीला  और 50 फीसदी सूखा कूड़ा होता है। सूखे कूड़े में 30 फीसदी प्लास्टिक वेस्ट होता है, जिसे पृथक करने के लिए प्राधिकरण शहर में पांच जगहों पर मैटेरियल रिकवरी फैसिलिटी सेंटर विकसित कर रहा है। यें सेंटर सेक्टर अल्फा टू, डेल्टा थ्री, ज्यू वन, ओमीक्रॉन वन और सेक्टर चाई.फाई में बनेंगे। इनकी निविदा प्रक्रिया चल रही है। शहर का कूड़ा इन सेंटरों पर इकट्ठा होगा। वहां से प्लास्टिक वेस्ट को रीसाइकिल करने वाले एनजीओ व कंपनियां ले सकेंगी। वे इससे मल्टी लेयर वाले बोर्ड तैयार कर जरूरत के उत्पाद बना सकेंगी। सेक्टर ईकोटेक 12 स्थित ऐसे ही एक री.साइकिलिंग  प्लांट का शुभारंभ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने बृहस्पतिवार को किया। भारतीय प्रदूषण नियंत्रण संघ और एसबीआई कार्ड और पेमेंट सर्विसेज की संयुक्त पहल से इसे तैयार किया गया है। इस प्लांट में प्लास्टिक वेस्ट से बेंच, चिड़िया का घोसला, ट्री गार्ड, लैंप आदि का उत्पाद बनाए जा रहे हैं। सीईओ ने प्लांट का निरीक्षण किया। इसके प्रोसेस को देखा। सीईओ ने इस पहल की सराहना की। उन्होंने भारतीय प्रदूषण नियंत्रण संघ और एसबीआई कार्ड को प्राधिकरण में प्रस्तुतिकरण के लिए आमंत्रित किया। प्लास्टिक वेस्ट को रीसाइकिल करने के लिए करार करने के भी संकेत दिए। ग्रेटर नोएडा के पार्कों  में प्लास्टिक वेस्ट से बने बेंच, चिड़िया का घोसला, ट्री गार्ड आदि लगवाने की बात कही। साथ ही सड़कें बनाने में भी इसके इस्तेमाल के संकेत दिए। इस दौरान भारतीय प्रदूषण नियंत्रण संघ के निदेशक आशीष जैन, उन्होंने प्लास्टिक कचरे के निपटारे से जुड़ी समस्या को हल करने के लिए संयुक्त रूप से प्रयास करते रहने का प्रण लिया। इसके साथ ही उन्होंने प्लास्टिक कचरे को रिसाइकिल करने के लिए समाज को भी जागरूक और संवेदनशील बनाने की लगातार कोशिश करने का संकल्प लिया। इस मौके पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के वरिष्ठ प्रबंधक सलिल यादव, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी प्रवीण कुमार, एसबीआई कार्ड के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे।