डीसीपी ट्रैफिक पर ग्रीन कॉरिडोर बनाकर ऑक्सीजन को सुरक्षा पूर्वक समय से पहुंचाने के लिए पुलिस बल एस्कॉर्ट मुहैया कराने की जिम्मेदारी

 



पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में सभी डीसीपी, एडीसीपी, एसीपी व थाना प्रभारियों को कई जरूरी दिशा निर्देश दिए

 


विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

कोविड.19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने पुलिस अधिकारियों/थाना प्रभारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक बैठक की और जनपद के सभी डीसीपी, एडीसीपी, एसीपी व थाना प्रभारियों को कई जरूरी दिशा निर्देश दिए। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने आगामी पंचायत चुनावों के नतीजों के बाद किसी भी प्रकार के विजय जलूस पर सख्ती से पाबंदी लगाने व गिनती के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया। उन्हांने कहा कि जनपद में कोविड.19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराने एवं हर तरह की परिस्थितियों का सामना करने को लेकर पुलिस हर वक्त मुस्तैद रहे। सभी पुलिसकर्मियों की फ्रंटलाइन ड्यूटी होने के कारण उनकी संवेदनशीलता को प्राथमिकता देते हुए पुलिस कमिश्नर द्वारा निर्देशित किया गया कि जिन पुलिसकर्मियों की अभी तक वैक्सीनेशन नही हुई है सभी पुलिस अधिकारी उसका व्यक्तिगत संज्ञान लेते हुए उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहित करे एवं सरल व्यवस्था भी कराएं,ऐसी स्थिति में उनके परिवारों की भी संवेदनशीलता बढ़ जाती है क्योंकि पुलिसकर्मी निरंतर ड्यूटी करके घर आते है इसलिए 18 वर्ष  से अधिक आयु वाले सभी पुलिस परिवार के सदस्यों के लिए भी 1 मई से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान मे उनके लिए व्यवस्था की जाए। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा पुलिस अस्पताल में लेवल 1 मरीजों के लिए डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ व आवश्यक उपकरण की उपलब्धता के बारे में भी जानकारी ली गई। अस्पतालों में मरीजों के साथ आने वाले परिजनों द्वारा अस्पताल स्टाफ से विवाद होने पर आक्रोशित होने की खबरें भी सामने आई है, जिसका संज्ञान लेते हुए पुलिस कमिश्नर द्वारा सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया है की वे सभी अस्पतालों पर निगरानी रखें एवं इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लगाए। इस मौके पर पुलिस कमिश्नर द्वारा डीसीपी क्राइम के नेतृत्व में एक स्पेशल टॉस्क फोर्स का गठन किया गया है जिसका मुख्य कार्य दवाइयों, रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन तथा अन्य आवश्यक सामान की कालाबाजारी पर मुखबिरी व डिकॉय कस्टमर भेजकर ऐसे लोगों की तलाश कर उनके ऊपर गैंगस्टर तथा एनएसए की कार्यवाही सुनिश्चित करना होगा। वहीं एम्बुलेंस व अंतिम शव यात्रा वाहनों द्वारा निर्धारित कीमत से अधिक किराया मांगने पर कार्यवाही के लिए डीसीपी ट्रैफिक को निर्देशित किया गया। साथ ही पुलिस कमिश्नर ने निर्देश दिया कि ऑक्सिजन की सप्लाई सामान्य होने तक ग्रीन कॉरिडोर बनाकर अन्य जगहों से आ रही ऑक्सिजन को सुरक्षा पूर्वक समय से गंतव्य स्थान तक पहुंचाने के लिए सुनिश्चित करने के लिए संबंधित पुलिस बल एस्कॉर्ट की सुविधा प्रदान करेगा। आगामी पंचायत चुनावों की गिनती के दृष्टिगत पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा स्पष्ट निर्देश दिए गए कि प्रेगनेंट महिलाएं अन्य किसी भी स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से पीड़ित पुलिसकर्मियों को ड्यूटी पर न लगाया जाए। इसके साथ ही कोविड प्रोटोकॉल संबंधी व्यवस्था कराने हेतु संबंधित को निर्देशित किया गया ताकि चुनाव की गिनती संबंधी प्रक्रिया को सुरक्षित रूप से संपन्न किया जा सके। पंचायत चुनावों के नतीजों के बाद किसी भी प्रकार के विजय जुलूस पर सख्ती से पाबंदी लगाने व गिनती के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए भी सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया। इस मौके पर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के साथ अपर पुलिस आयुक्त कानून एवं व्यवस्था लव कुमार मौजूद रहे एवं अन्य सभी पुलिस अधिकारी/थाना प्रभारी वर्चुअल रूप से उपस्थित रहे।