पुलिस महानिरीक्षक (अभियोजन)  ने  जनपद बुलन्दशहर के अभियोजन विभाग का निरीक्षण किया 

विजन लाइव/बुलन्दशहर
----------------------------------------
अभियोजन विभाग, उ.प्र. के पुलिस महानिरीक्षक (अभियोजन)  विनय कुमार, आई.पी.एस. ने जनपद बुलन्दशहर के अभियोजन विभाग का निरीक्षण करते हुए अभियोजन कार्य के साथ साथ  ई-प्रौसीक्यूशन एवं मिशन शक्ति अभियान की प्रगति की समीक्षा की। समीक्षा करते हुए आई.जी.अभियोजन द्वारा निर्देशित किया गया कि जनपद के न्यायालयों में प्रचलित सभी आपराधिक अभियोगों का शत प्रतिशत पंजीकरण ई-प्रौसीक्यूशन पोर्टल पर यथाशीघ्र किया जाना चाहिए, जिससे कि अभियोजन कार्य को सुगमतापूर्वक किया जा सके और उसमें पारदर्शिता भी बनी रहे। महानिदेशक अभियोजन  आशुतोष पाण्डेय, आई.पी.एस. द्वारा  ई-प्रौसीक्यूशन के क्षेत्र में किए जा रहे राष्ट्रीय महत्व के कार्य और उसके आधार पर उ.प्र. अभियोजन को राष्ट्रीय स्तर पर मिली पहचान पर भी आई.जी. अभियोजन ने विस्तार से चर्चा की। उ.प्र. सरकार के मिशन शक्ति अभियान को सफल बनाने के लिए महिलाओं एवं बच्चों के विरुद्ध हुए अपराधों में शीघ्रातिशीघ्र विचारण पूर्ण कर अपराधियों को अधिकतम सजा कराने पर भी  बल दिया। शष्त्र अधिनियम के सभी मामलों का सम्पूर्ण विवरण एकत्रित करके इन मामलों को भी एक अभियान के रुप में लेकर सफलतापूर्वक निस्तारित करने के निर्देश आई.जी. अभियोजन ने दिए।
जनपद बुलन्दशहर के संयुक्त निदेशक अभियोजन राजेश मिश्रा और ज्येष्ठ अभियोजन अधिकारी ललित मुदगल द्वारा आई.जी..अभियोजन  विनय कुमार का स्वागत किया गया। निरीक्षण के दौरान सहायक अभियोजन अधिकारी ललित वैद्य, रणधीर सरोज, अरुण कुमार सिंह, वीरेन्द्र मिश्रा और विनती कुमारी तथा कार्यालय सहायक नीरज कुमार और शक्ति सिंह उपस्थित रहे।