थाना सेक्टर 20 के तहत युवकों ने बेटी का बलपूवर्क अपहरण कर लिया और फिर कार में डाल कर फरार हो गए

 


विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

विवाहित युवती को कार सवार युवकों ने अगुवा कर लिया है। नोएडा की थाना सेक्टर 20 पुलिस अभी तक अपहृत युवती को बरामद नही कर पाई है। पीडित पिता ने पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर को पत्र लिख कर अपहृत बेटी को सकुशल बरामद कराते हुए आरोपी युवकों के खिलाफ कार्यवाही कराए जाने की मांग की है।  नोएडा के सेक्टर-27, जी-29 निवासी मुकंदीलाल उर्फ बाबूलाल पुत्र गोरेलाल, थाना सेक्टर-20 ने पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर को लिखे पत्र में अगवत कराया है कि मूलरूप से ग्राम मवैया हरपालपुर जिला छतरपुर मध्य प्रदेश का निवासी है और लंबे अरसे से नोएडा में परिवार समेत रह रहा है। शिकायतकर्ता मुकंदीलाल उर्फ बाबूलाल पुत्र गोरेलाल ने पत्र में पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर को अवगत कराया है कि प्रार्थी परिवार के साथ जी-29 के पीछे सरवेंट र्क्वाटर में निवास करता है। सरवेंट र्क्वाटर का दरवाजा कोठी के बैकसाईड में है और प्रार्थी जी-29 के फ्रंट में ही चौकीदार की नौकरी करता है। पीडित पिता ने पत्र में कहा कि प्रार्थी की विवाहित बेटी दिनांक 14-01-2021 को दोपहर करीब ढाई बजे घर से उसे खाना देने के लिए आ रही थी। वहीं मैनगेट से थोडा पहले चार युवक वैगनाकार में घात लगाए खडे थे। कार सवार युवकों ने बेटी का बलपूवर्क अपहरण कर लिया और कार में डाल कर फरार हो गए। इस बात की सूचना पीडित की ओर से थाना सेक्टर-20 पुलिस को दी गई। पहले तो पुलिस ने सीधे मुंह बात नही की और फिर हीलहवाली के बाद अपहरण का मामला दर्ज किया। पत्र में पीडित पिता ने थाना पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस अब आरोपी पक्ष की तरफदारी ंमे लगी हुई है और एफ.आई.आर. से उन्हें अब पता चला है कि पुलिस ने सिर्फ एक युवक को ही नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज किया है जब कि बेटी को अपहरण करने वाले कार सवार युवकों की संख्या 4 रही थी,क्योंकि यह सारी घटना सोसायटी के सीसीटीवी कैमरों में भी कैद है। पत्र में शिकायतकर्ता पिता ने पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर से मांग की है कि घटना के करीब 10 दिन बाद तक पुलिस न तो उसकी बेटी को बरामद कर पाई है और न ही आरोपी युवकां का कोई सुराग लगा है। इसलिए थानाध्यक्ष सेक्टर-20 को आदेशित किया जावे कि प्रार्थी की बेटी को सकुशल जल्द से जल्द बरामद करते हुए उक्त मुकदमें में सुंसगत धारा बढाते हुए आरोपी युवकों के खिलाफ उचित कानूनी कार्यवाही कराने की कृपा करें।