भाजपा सरकार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बैंच की स्थापना को लेकर वर्षो से चली आ रही मांग को पूरा करना चाहिएः रोहिताश अग्रवाल

 


मौहम्मद इल्यास / गौतमबुद्धनगर

-----------------------------------

गौतमबुद्धनगर जनपदीय दीवानी एवं फौजदारी बार एसोसिएशन के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण समारोह कचहरी परिसर स्थित बार सभागार में संपन्न हुआ। शपथ ग्रहण समारोह की अध्यक्षता राज्य विधिक परिषद उत्तर प्रदेश के चेयरमैन रोहिताश अग्रवाल ने की। जब कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री व सासंद डा0 महेश शर्मा रहे। राज्य विधिक परिषद उत्तर प्रदेश के चेयरमैन रोहिताश अग्रवाल ने इस मौके पर नए अधिवक्ताओं के लिए चैंबर निमार्ण कार्य का शिलान्यास किया। शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित करते हुए राज्य विधिक परिषद उत्तर प्रदेश के चेयरमैन रोहिताश अग्रवाल ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट की बेंच की स्थापना को लेकर सरकार कतई भी गंभीर नही है। पिछले कई दशकों से दर्जनो जनपदो के हजारों अधिवक्ता पश्चिमी उत्तर प्रदेश मेंं हाईकोर्ट बैंच की स्थापना को लेकर संघर्ष कर रहै हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की स्थापना को लेकर सन 1981 से ही वकीलों ने संघर्ष शुरू कर दिया था तब से लेकर कितनी ही सरकारें आईं और गई मगर यह मुद्दा जस का तस बना हुआ है। उन्होंने कहा कि सन 1987 में अटल बिहारी वाजपेयी जब विपक्ष में थे तो सत्ता पक्ष के लोगों से पश्चिम में हाईकोर्ट की बैंच की स्थापना कराने की मांग की थी मगर जब खुद वाजपेई सरकार सत्ता में आई तो दर्जनो जनपदो की बार एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 अटल बिहारी वाजपेयी से मुलाकात कर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की स्थापना कराने के लिए कहा तो टालमटोल कर गए। उन्हांंने कहा कि अब उत्तर प्रदेश और साथ ही केंद्र में भी एक ही दल की सरकार है। इसलिए बैंच की स्थापना को लेकर सत्ता पक्ष के लोगो को लचीला रूख अख्तियार करना होगा और वर्षो से चली आ रही है यह अधिवक्ताओं और साथ ही साथ आम जनता के हित की मांग को पूरा करना चाहिए। पूर्व केंद्रीय मंत्री व सासंद डा0 महेश शर्मा ने भी बार एसोसिएशन की नवनिर्वाचित कार्यकारणी पदाधिकारियों और सदस्यों को बधाई देते हुए सहयोग देने का आश्वासन दिया। गौतमबुद्धनगर जनपदीय दीवानी एवं फौजदारी बार एसोसिएशन के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मनोज भाटी एडवोकेट ने कहा कि नई कार्यकारणी सभी अधिवक्ताओं के विश्वास को कायम रखते हुए अधिवक्ताओं के लिए कल्याण के लिए कार्य करेगी। युवा अधिवक्ताओं की चैंबरों की समस्या चली आ रही थी इसे तत्काल हल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चैंबरों के निमार्ण के लिए शिलान्यास हो गया है सभी 265 युवा अधिवक्ताओं को चैंबर दिलाए जाएंगे। चैंबर निमार्ण के लिए भूमि की कोई दिक्कत नही है क्योंकि पहले ही यहां पर करीब 4-5 एकड भूमि चैंबरों के लिए उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि अधिवक्ताओ को चैंबर दिलाने के लिए कमेटी का गठन कर लिया गया है और इस माह के अंत तक ड्रा भी करा दिया जाएगा। कार्यक्रम को राज्य विधिक परिषद उत्तर प्रदेश के को- चेयरमैन व सदस्य सचिव शिव किशोर गौड और सदस्य अजय यादव, राज्य विधिक परिषद उत्तर प्रदेश के पूर्व चेयरमैन अब्दुल रज्जाक खान, दादरी विधायक मास्टर तेजपाल नागर, जेवर विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह आदि वक्ताओं ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर नवनिर्वाचित अध्यक्ष मनोज भाटी बोड़ाकी एवं सचिव ऋषि टाइगर ने राज्य विधिक परिषद उत्तर प्रदेश के चेयरमैन रोहिताश अग्रवाल का स्वागत किया। इस अवसर पर कार्यवाहक जिला जज ए. के. सिंह, अपर ज़िला जज वेद प्रकाश वर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष विजय भाटी, कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष डा0 महेंद्र नागर, पूर्व बार अध्यक्ष अंकुर अग्रवाल, रामशरण नागर, प्रमोद कुमार वर्मा, राजीव तौंगड आदि अतिथिगण व अधिवक्तागण उपस्थित रहे।