विजन लाइव/दनकौर

भारतीय किसान यूनियन अम्बावता के कैंप कार्यालय पर जिलाध्यक्ष मास्टर नेहपाल कसाना के नेतृत्व में एक बैठक का आयोजन हुआ। इसकी अध्यक्षता जग्गी पहलवान और संचालन जिला प्रवक्ता कृष्ण भाटी ने किया। जिला प्रवक्ता कृष्ण भाटी ने बताया कि कुछ दिन पूर्व भारतीय किसान यूनियन अम्बावता को छोड़कर टिकैत गुट में शामिल होने वाले जग्गी पहलवान ने आज दुबारा भारतीय किसान यूनियन अम्बावता में घर वापसी की जिनका स्वागत सभी पदाधिकारियों ने बड़े ही आदरभाव से किया। इस मौके पर युवा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक नागर ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश मे किसान संगठनों की बहुत ज्यादा आवश्यकता हैं। भारत मे सबसे बड़ा धर्म किसान धर्म हैं।  पूरे देश का किसान आंदोलित हैं सरकार को किसान हित समझते हुए ये तीनों बिल वापस लेने चाहिए। इस मौके पर रजपाल भगत,प्रभु नागर, नरेश चपरगढ़, नासिर प्रधान, जुबेर भाटी, मदन कसाना, लीलू बैंसला, महावीर सिंह आदि पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित रहे।