ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों की लापरवाही एवं भ्रष्टाचार के कारण अपने विकास की बाट देख रहे हैं,सैकड़ों गांवः चौधरी प्रवीण भारतीय

 


विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले सैकड़ों गांव अपने विकास की बाट देख रहे हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकतर गांवो के ग्रामीण मूलभूत समस्याओं का समाधान नहीं होने के कारण परेशान हैं। इन समस्याओं के समाधान की मांग करते हुए करप्शन फ्री इंडिया ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर हल्ला बोल प्रदर्शन करते हुए प्राधिकरण के ओएसडी शिव प्रताप शुक्ला को ज्ञापन सौंपा। करप्शन फ्री इंडिया के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों की लापरवाही एवं भ्रष्टाचार के कारण सैकड़ों गांव अपने विकास की बाट देख रहे हैं। उन्होंने बताया कि ग्रेटर नोएडा के प्रमुख गांव तुगलपुर,  जुनेदपुर, कनारसी, देवटा,  डाढा,  खेरली, मंडीश्यामनगर,बरसात, चूहडपुर खादर,घरबरा, मुर्शदपुर,इमलिया,  लुकसर, नियाना, सलेमपुर,घघौला आदि गांव के ग्रामीण मूलभूत समस्याओं की वजह से परेशान है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि इन सभी गांवों में पानी की निकासी, स्ट्रीट लाइट, साफ सफाई, सीवर ओवरफ्लो और गड्ढा युक्त सड़कें एवं अधिकतर गांव के बरात घरों की स्थिति बहुत ही खराब है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि प्राधिकरण के अधिकारी दोहरी नीति अपनाते हुए एक तरफ तो गांवों को स्मार्ट विलेज बनाने की बात कर रहे हैं और वहीं दूसरी तरफ गांवों में समस्याओं के अंबार लगे हुए हैं। करप्शन फ्री इंडिया के संस्थापक सदस्य आलोक नागर ने कहा कि इन सभी समस्याओं के विरोध में आज करप्शन फ्री इंडिया संगठन के कार्यकर्ताओं ने प्राधिकरण पर हल्ला बोल प्रदर्शन करते हुए प्राधिकरण के ओएसडी शिव प्रताप शुक्ला को 1 सप्ताह में समस्याओं का समाधान कराने की चेतावनी देते हुए ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने कहा कि 1 सप्ताह के अंदर समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो गांवों में पंचायत कर प्राधिकरण पर बड़ा आंदोलन करेंगे। इस दौरान मौके पर आलोक नागर, संजय भैया, मास्टर दिनेश नागर, प्रेम प्रधान,अरुण नागर, कुलबीर भाटी, आशु भाटी, अर्जुन नागर,राजेंद्र नवादा,शुभम चेची,सतेंदर नवादा, नफीस अहमद, उमर नवादा, मनोज बैसोया, बलजीत चेची, सुशील, सुखपाल ठेकेदार, दीपक भाटी पंचायतन, रिंकू बैसला,कपिल पहलवान आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।