इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड आईईएमएल को हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री आतिथ्य उद्योग की हस्तियों और बिजनेस लीडर्स के संदेश और शुभकामनाएं प्राप्त हुई

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

द इंडिया इंटरनेशनल हॉस्पिटैलिटी एक्सपो का तीसरा संस्करण यानी आईएचई 2020 का शुभारंभ बुधवार 2 दिसंबर को हो गया। यह पहला और सबसे बड़ा हॉस्पिटैलिटी वर्चुअल सोर्सिंग शो है। वर्चुअल मोड पर हुए इस उद्घाटन समारोह के लिए इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड आईईएमएल को हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री आतिथ्य उद्योग की हस्तियों और बिजनेस लीडर्स के संदेश और शुभकामनाएं प्राप्त हुईं। इनमें कई बड़े नाम जैसे निर्मल खंडेलवाल अध्यक्ष एफसीएमएल डिस्ट्रीब्यूटर्स प्राइवेट लिमिटेड, शेफ मंजीत गिल जो कि इंडीपेंडेंट एफएंडबी सलाहकार के साथ ही अध्यक्ष इंडियन फेडरेशन ऑफ कलिनरी एसोसिएशन भी हैं, सीजन्स ग्रुप के वाइस चेयरमैन  संजय खुल्लर, परचेजिंग प्रोफेशनल्स फोरम इंडिया पीपीएफआई के संस्थापक और प्रेसीडेंट अमरजीत आहूजा, प्रेसिंडेट इंडियन कलिनरी फोरम के प्रेसीडेंट और दिल्ली ली मेरीडियन के वाइस प्रेसिडेंट फूड प्रोडक्शन शेफ दवेंद्र कुमार, प्रेसीडेंट होटरमा एचओटीईआरएमए और एचएसएमसी एशिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  अनिल मल्होत्रा जैसी हस्तियां शामिल हैं। आईईएमएल के चेयरमैन और हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद ईपीसीएच के महानिदेशक राकेश कुमार ने वर्चुअल मंच पर हुए इस आयोजन के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि इससे ग्लोबल हॉस्पिटैलिटी के लिहाज से इस माध्यम से ज्यादा बड़ी और बेहतर पहुंच बनाई जा सकती है। उन्होंने जानकारी दी कि वर्चुअल मोड पर हुए इस चार दिन के आयोजन में लाइव मास्टर क्लासेसए बी2बी मीटिंग्स, उत्पादों और सेवाओं की रिसोर्सिंग के साथ ही नॉलेज सत्रों का भी आयोजन किया जाएगा।  विभिन्न सेक्टर के 200 से ज्यादा प्रतिभागी अपने उत्पादों, उपकरणों, एसेसरीज, टेबलवेयर, ग्लासवेयर और मशीनरी फूडए बेकरी और सेवाओं आदि के साथ ही अलाइड सर्विसेज का प्रदर्शन इस मंच से कर रहे हैं। इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड ने आनलाइन प्लेटफार्म्स का विशिष्ट रुप से निर्माण किया है जिससे सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का पालन किया जा सके और व्यापारिक आगंतुकों और विजिटर्स को अपने घर, आफिस या फोन से आसान एक्सेस मिल सके। पहले ही दिन 2 बेहद शानदार और दमदार सत्र हुए जिनमें इंडस्ट्री लीडर्स राजीव कौल, सलाहकार द लीला पैलेसेज होटल्स एंड रिज़ॉर्ट्स के साथ ही इंडियन स्कूल ऑफ हॉस्पिटैलिटी के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिलीप पुरी, एमबीडी समूह की ज्वाइंट मैनेजिंग डायरेक्टर सोनिका मल्होत्रा और आईटीसी होटल्स के चीफ आपरेटिंग आफिसर अनिल चड्ढा ने कोविड 19 महामारी के काल में आउट ऑफ बाक्स यानी लीक से हटकर सोचने पर अपने विचार व्यक्त किए। इसके साथ ही अन्य महत्वपूर्ण सत्र शेफ्स फोरम में कई जाने माने और सेलिब्रिटी शेफ ने हिस्सा लिया जिसमें ली मेरीडियन नई दिल्ली के वाइस प्रेसीडेंट एफ एंड बी प्रोडक्शन शेफ दविंदर कुमार, इंडियन कलिनरी फोरम के प्रेसिडेंट विनीत भाटिया, मिशलिन.स्टार्ड ग्लोबल शेफ और रेस्टोरेट्योर मनीष मेहरोत्रा, इंडियन एक्सेंट रेस्टोरेंट्स की कॉरपोरेट शेफ मनीषा भसीन, आईटीसी होटल्स के के कारपोरेट शेफ और एजुकेशन कमेटी डब्ल्यूएसीएस के वाइस चेयरपर्सन सुशील दिवान, क्षेत्रीय निदेशक फूड प्रोडक्सन्स द पार्क कोलकाला और बाकी लोगों ने इस महामारी के होटल और रेस्टोरेंट्स पर पड़ने प्रभावों, आयामों, असर और अवसरों पर विस्तार से चर्चा की। इस मौके पर सभी शेफ ने अपने मेन्यू को नए सिरे से बनाने पर सहमत हुए और उन बातों पर विशेष ध्यान देने की बात की जिससे स्वच्छता और सुरक्षा को लेकर ग्राहक संतुष्टि को सबसे ज्यादा महत्व दिया जा सके।  इस मंच पर आईसीएफ के सहयोग से कलिनरी मास्टर क्लास का भी आयोजन किया गया और वाइन ट्रेनिंग सत्र का आयोजन मिक्सोलॉजिस्ट अंकुर चावला द्वारा किया गया। इस सत्र में दर्शकों को वाइन का स्वाद लेने से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों और उसका पुरा मजा लेने के तरीकों की जानकारी मिली।