पुलिस ने धारा 342,392,323,504 और 506 के तहत रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू की

 








विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

सूरजपुर स्थित गौतमबुद्धनगर जिला न्यायालय के वकील ने सदर तहसील में कार्यरत लेखपालों पर मारपीट व लूटपाट का आरोप लगाया है। आरोप है वह अपने निजी काम से तहसील में लेखपाल के पास गए थे। इस बीच लेखपाल ने रिश्वत की मांग की। रिश्वत मांगने का विरोध करने पर लेखपाल और उसके साथी लेखपालों ने वकील के साथ मारपीट की और 10 हजार रूपये की नकदी समेत मोबाइल लूट लिया। वकील की तहरीर पर पुलिस ने तीन नामजद व दो अज्ञात लेखपालों खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक अधिवक्ता मोहित भाटी सूरजपुर स्थित जिला न्यायालय में प्रेक्टिस करते हैं और कोर्ट परिसर गली न.2 में चैंबर है। अधिवक्ता मोहित भाटी दिनांक 26 नवंबर-2020 गुरुवार को काम के लिए से सदर तहसील डाढा गए थे। मोहित भाटी ने सदर तहसील में मौजूद लेखपाल प्रवेश से अपनी फाइल पर रिपोर्ट लगवाने के लिए कहा। आरोप है कि लेखपाल ने 15 हजार रिश्वत की मांग की। उसने रिश्वत की बात का विरोध किया तो लेखपाल व उसके कुछ अन्य साथी भी मौके पर गए। इसके बाद आरोपी लेखपालों ने मोहित को कमरे में बंद कर उनके साथ मारपीट की और विरोध करने पर जेब में रखे 10 हजार रुप और मोबाइल लूट लिया। इस मामले की तहरीर पीड़ित अधिवक्ता मोहित भाटी की ओर से  आरोपी लेखपाल प्रवेश, अमित, सुनील व दो अज्ञात लोगों के खिलाफ दी है। पुलिस ने अधिवक्ता की शिकायत के आधार धारा 342,392,323,504 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। उधर अधिवक्ता के साथ मारपीट और लूटपाट के विरोध में शुक्रवार को जिला न्यायालय के वकील हड़ताल पर रहे। अधिवक्ताओं ने लेखपालों के खिलाफ विरोध प्रकट किया और पुलिस से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। शुक्रवार को वकीलों की हड़ताल के चलते कोर्ट में कामकाज ठप रहा। वकीलों ने चेतावनी दी है कि यदि आरोपी लेखपालों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो वह आंदोलन को मजबूर होंगे।