ग्रामीणों ने शिकायत ट्वीटर, सीएम और पीएम पोर्टल पर की तो अघिकारी अब टूटी फूटी सडकों की सुध लेने के पहुंचे

 





मौहम्मद इल्यास/ग्रेटर नोएडा

दादरी रियासत के राजा उमराव सिंह भाटी के गांव कठहेरा जाने के लिए सडक गहरे गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। ग्रामीणों ने गांव और इन सडकों की दुर्दशा को लेकर आला अधिकारियों को पत्र लिख कर आवाज बुलंद की थी। आखिर ग्रामीणों की यह मुहिम रंग लाई और प्रशासन हरकत में आया। अब विकास कार्य धरातल परं नजर आने लगे हैं। ब्रिटिश शासनकाल में राजा राव उमराव सिंह ने अगं्रेजो को लौहे के चने चबवा दिए थे। इस कठेरा गांव में विकास और सडकों की बदहाली को लेकर ग्रामीण आवाज बुलंद करते रहे हैं। कठहेरा गांव निवासी मनीष भाटी बी.डी.सी. ने बताया कि दादरी शहर से कठहेरा गांव तक जाने वाले मैन रोड की हालत जर्जर अवस्था में थी और वहीं गांव से पल्ला को जोडने वाले मैन रास्ते का भी बुरा हाल था। कठहेरा गांव से ग्रेटर नोएडा को जोडने वाले इन रास्तों से पैदल निकलना तक दूभर बना हुआ है। परेशान होकर ग्रामीणों ने इस बात की शिकायत ट्वीटर और सीएम और पीएम पोर्टल पर की थी। इस शिकायत का असर होना शुरू हो गया है। उन्होंने बताया कि संबंधित अघिकारी अब टूटी फूटी सडकों की सुध लेने के लिए पहुंच रहे हैं और तारकाल आदि डालने का कार्य शुरू हो रहा है। साथ ही सडकों के आसपास उगी घनी झाडियों को काटने का भी कार्य किया जा रहा है। पीडब्लूडी के जेई सरेंद्रपाल पाल ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया है कि सभी सड़कों की सही ढंग से मरम्मत कराई जाएगी और झंडियों को भी काटा जाएगा व रेलवे लाईन तक मुख्य सड़कों कार्य तथा बाकी कार्य भी जल्द शुरू होंगे।  सुखपाल भगत जी के मकान से शिवमंदिर तक आरसीसी बनाया जाएगा।