ट्रांसफार्मर रखने के बाद खत्म हुआ करप्शन फ्री इंडिया का एनपीसीएल दफ्तर पर हल्ला बोल प्रदर्शन



विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के गांव पीपलका में पिछले कई महीनों से ट्रांसफॉर्मर फुंकने के कारण बिजली की समस्या से पीपलका गांव के ग्रामीण जूझ रहे हैं। गांव में छोटे बच्चे एवं बुजुर्गों की हालत इस भीषण गर्मी में दयनीय है। इस गंभीर समस्या को लेकर करप्शन फ्री इंडिया संगठन के कोर कमेटी के सदस्य संजय भैया के नेतृत्व मे समस्या के समाधान के लिए सोमवार को पत्र सौंपा था। ट्रांसफॉर्मर रखने के लिए महाप्रबंधक ने शाम तक का समय मांगा लेकिन ट्रांसफॉर्मर नहीं रखा गया। इसके विरोध में मंगलवार को दोबारा प्रदर्शन किया गया। करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के गांव पीपलका में पिछले लंबे समय से बिजली की आपूर्ति नहीं हो पा रही है,जिसका मुख्य कारण है कि गांव का ट्रांसफॉर्मर फुंका हुआ है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ग्रामीणों ने कई बार एनपीसीएल दफ्तर में लिखित एवं मौखिक शिकायत की है, लेकिन उसके बावजूद भी गांव में बिजली का ट्रांसफार्मर नहीं बदला गया है। इस भीषण गर्मी में ग्रामीण का जीवन बेहाल हो चुका है। उन्होंने कहा कि गांव में बिजली न होने के कारण बुजुर्ग एवं छोटे बच्चों की स्थिति गर्मी के कारण बेहाल हो चुकी है। वहीं ग्रामीण रात्रि के अंधेरे में अपना समय व्यतीत कर रहे हैं जबकि गांव के 32 नए उपभोक्ताओं ने कनेक्शन के लिए प्रार्थना पत्र दिया है। उसके बावजूद भी अगर गांव में ट्रांसफार्मर नहीं रखा जा रहा है तो एनपीसीएल कंपनी की इस तानाशाही को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। संजय भैया ने बताया कि सोमवार को महा प्रबंधक सुबोध त्यागी ने आश्वासन दिया था कि आज शाम तक ट्रांसफार्मर किया जाएगा लेकिन ट्रांसफार्मर नहीं रखा गया जिसके विरोध में मंगलवार की सुबह से ही संगठन एवं ग्रामीणों ने एनपीसीएल के दफ्तर के गेट पर प्रदर्शन किया। उन्होंने बताया कि जब गांव में ट्रांसफॉर्मर पहुंच गया, तब संगठन ने अपना प्रदर्शन खत्म किया। बिजली की समस्या के खिलाफ प्रदर्शन में किसान एकता संघ के प्रदेश अध्यक्ष जतन सिंह भाटी के नेतृत्व में एकता संघ के पदाधिकारियों ने भी समर्थन दिया। इस दौरान संजय भैया, आलोक नागर, बलराज हूंण, जतन सिंह भाटी, प्रेम प्रधान, राकेश नागर, सोरन प्रधान, बृजेश भाटी, कृष्ण नागर, लोकेश राठी, मोहन सिंह तोमर, शिवकुमार कसाना, सतीश कुमार, डॉक्टर देवेंद्र कुमार, शिवकुमार कसाना, योगेश कुमार, अनवर खान, बबलू खान, विनोद कुमार, टेकचंद, पवन कुमार आदि पदाधिकारीगण और ग्रामीण उपस्थित रहे।