यमुना प्राधिकरण ने दिल्ली के न्यू अशोक नगर से जेवर एयरपोर्ट को रैपिड रेल से जोड़ने के लिए प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा
विजन लाइव/यमुना सिटी                                                                        
जेवर में बनने जा रहे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट से कनेक्टिविटी रैपिड रेल द्वारा बेहतर होगी। यमुना प्राधिकरण ने रैपिड रेल को दिल्ली के न्यू अशोक नगर से जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए एक प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेज दिया है। यह करीब 50 किलोमीटर का ट्रैक होगा। इस पर 8680 करोड़ रुपये खर्च होनेका अनुमान है। पहले यह प्रस्ताव एनसीआरटीसी को भेजा गया था, जिसने यह प्रस्ताव खारिज कर दिया था। अब यह प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया है ताकि फंडिंग हो सके। यमुना प्राधिकरण ने सरकारी संस्था राइट्स से इसका अध्ययन करवाया है। विकल्पों में रैपिड रेल आती है तो आईजीआई से जेवर तक की दूरी करीब 88 किलोमीटर होगी। न्यू अशोक नगर से जेवर तक जमीन का भी मसला आड़े नहीं आएगा। परियोजना पर नजर डाले तों नोएडा,ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस.वे के सहारे इसे लाया जाएगा। इसका प्रस्ताव नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन को भेजा गया था। यमुना प्राधिकरण की ओर से भेजे गए इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया गया था। इसका कारण शायद यह भी रहा हो कि इस परियोजना की लागत अधिक है। इसी के चलते यह प्रस्ताव पास नहीं हुआ था। एनसीआरटीसी दिल्ली.मेरठ रूट पर रैपिड रेल पर काम कर रहा है। यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यापालक अधिकारी डा0 अरूणवीर सिह के मुताबिक रैपिड रेल के लिए फिर केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा गया है। इसमें न्यू अशोक नगर से जेवर तक रैपिड रेल का प्रस्ताव है। केंद्र सरकार की गाइडलाइन के तहत आगे बढ़ेंगे।