यमुना सिटी में सैक्टरों की तर्ज पर ग्राम भी होंगे विकसित


उत्तर प्रदेश की जेवर विधानसभा को मिला स्मार्ट विलेज विकसित करने का मौका




विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर
यमुना एक्सप्रेस.वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरूण वीर सिंह व अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी रविन्द्र सिंह के साथ जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने जेवर विधानसभा के ग्राम मिर्जापुर व निलौनी में स्मार्ट विलेज के विकास कार्यों का शुभारम्भ कराया है। जिस तरीके से प्राधिकरणों द्वारा औद्योगिक व आवासीय क्षेत्रों का विकास पूर्व में किया था, उस विकास की दौड में गांव स्लम बनकर रह गए। प्राधिकरणों द्वारा सैक्टरों का तो समूचित विकास किया गयाए लेकिन उन गांवों को विकास और मूलभूत विकास की दौड से बाहर कर दियाए जिसमें रहने वाले किसानों की जमीनों पर बेहतरीन आवासीय क्षेत्र और गगनचुम्बी इमारतें बनी। इससे एक हीन भावना हमेशा ग्रामीण क्षेत्र के लोग महसूस करते रहे, जिससे जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने भी विगत कई वर्षों से महसूस किया। उसी को देखते हुए जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने यमुना एक्सप्रेस.वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण में बैठकर ग्रामों को भी सैक्टरों की तर्ज पर मूलभुत सुविधाएं उपलब्ध कराने का बीडा उठाया जो आज यमुना एक्सप्रेस.वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरूणवीर सिंह की मेहनत और लग्न से साकार हुआ। इन स्मार्ट गांवों में प्रथम चरण में लगभग 10 करोड रूपये की लागत से सीवरेज सिस्टम, ड्रैनेज सिस्टम, पेयजल आपूर्ति, स्ट्रीट सोलर लाईट व मार्गों का निर्माण होगा तथा दूसरे चरण में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, सामुदायिक भवन, हैल्थ सेंटर तथा आई.चौपाल जैसी अन्य सुविधाओं को विकसित किया जाएगा। इस योजना में लगभग 30 ग्रामों को चयनित किया गया है, जिसमें से गांव मिर्जापुर, रामपुर बांगर, निलौनी, अछेजा बुजुर्ग व डूंगरपुर रीलखा के अवार्ड हो चुके हैं। शुक्रवार को विधिवत नारियल फोडकर गांव मिर्जापुर व निलौनी में विकास कार्यों का शुभारम्भ कराया गया। जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि ष्यह मेरे व जेवर विधानसभा के लिए बडे सौभाग्य की बात की कि हम बहुत दिनों से स्मार्ट सिटी के बारे में सुनते चल आए थे,  लेकिन आज हमें फक्र भी है और खुशी भी है कि हम जेवर विधानसभा क्षेत्र के मिर्जापुर व निलौनी गांव, देश के अन्य गांवों के विकास के लिए एक संदेश देने जा रहे हैं कि ग्रामीणों को भी वो सभी मूलभुत सुविधाएं मिल,ए जो शहरी क्षेत्र के लोगों को मिल रही हैं। इस कार्य के लिए यमुना एक्सप्रेस.वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण व उनकी पूरी टीम को साधुवाद है, जो उन्होने  इस प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए भविष्य के स्मार्ट विलेज के सपने को साकार किया है। मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरूण वीर सिंह ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि गांव के लोग विकास की दौड में किसी से पीछ न रहे तथा स्थानीय लोगों को भी यमुना एक्सप्रेस.वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण क्षेत्र के उद्योगों में 40 प्रतिशत रोजगार मिल सकें। ऐसे व्यवस्था  की जा रही है। इस मौके पर ग्राम मिर्जापुर के देवेन्द्र सिंह, रामशरन सिंह,इन्दर सिंह प्रधान, मा0 देवराज सिंह व सुरेश शर्मा ने खुशी जताते हुए कहा कि हम कभी सोच भी नही सकते थे कि हमारा गांव स्मार्ट सिटी की तर्ज पर स्मार्ट गांव बनाए जाएगे। इस मौके पर यमुना एक्सप्रेस.वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के जनरल मैनेजर परियोजना के0के0सिंह,वरिष्ठ प्रबंधक विकास कुमार,वरिष्ठ प्रबंधक आनन्द मोहन, मैनेजर एके सक्सेना व बीडी शर्मा आदि लोग प्रमुख रूप से मौजूद रहे। वहीं इस मौके पर गणमान्य लोगों में पूरन सिंह, विशंबर सिंह, बाबू सिंह, मेघराज सिंह, रमेश सिंह, ओमी, चन्दर सिंह, विनोद सिंह, हरकेश प्रधान, राधे सिंह, महेश सिंह, नेपाल सिंह, मुकेश सिंह, प्रमोद सिंह व बंटी सिंह आदि मौजूद रहे।