कोरोना वायरस के संक्रमण सुरक्षित रखने के उद्देश्य से आरोग्य सेतु ऐप का डाउनलोड कर लाभ उठाएं
विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर
कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए समस्त जनपदवासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने के उद्देश्य से कोविड-19 के प्रभारी अधिकारी एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण नरेंद्र भूषण ने सभी जनपदवासियों का आहवान किया है कि वर्तमान में कोरोना महामारी देश और प्रदेश में फैली हुई है। साथ ही जिलाधिकारी सुहास एल0 वाई0 ने भी  इससे बचाव एवं उपचार हेतु उत्तर प्रदेश के समस्त विभाग आपसी सामंजस्य बनाते हुए कार्यरत हैं। कोरोना महामारी से बचाव एवं स्वमूल्यांकन हेतु भारत सरकार द्वाराआरोग्य सेतु’’(।ंतवहलं ैमजन) नाम से एक आधुनिक मोबाइल ऐप का विकास किया गया है, जोकि कोरोना(कोविड-19) वायरस संक्रमण के खतरे एवं जोखिम का आंकलन करने में नागरिकों की मदद करता है। यह मोबाइल ऐप ब्लूटूथ, लोकेशन एवं मोबाइल नंम्बर का उपयोग कर आस-पास मौजूद कोरोना संक्रमित लोगों के बारे में एलर्ट जारी करता है। उक्त मोबाइल ऐप ।दकतवकध्पवे दोनों तरह के मोबाइल आपरेटिंग साॅफ्टवेयर के लिए उपलब्ध है। विशिष्टताओं के अतिरिक्त इसमें राज्यवार कोरोना हेल्पलाइन सेन्टर की सूची भी उपलब्ध कराई जाती है। इस ऐप के माध्यम से उपयोगकर्ता द्वारा किसी भी समय पूर्व निर्धारित प्रश्नों का उत्तर देकर स्वयं अपना मूल्यांकन भी किया जा सकता है। इस ऐप के समस्त डाटा को भारत सरकार द्वारा निजता कानून के तहत सुरक्षित रखा जाता है। उन्होंने जनपद के समस्त नागरिकों का आहवान किया है कि इस ऐप का अधिक से अधिक उपयोग करें और साथ में समस्त विभागों के सभी अधिकारियों/कर्मचारियों/शिक्षकों/छात्रों से अधिकाधिक संख्या में अपने अधीनस्थ कर्मचारियों से इस ऐप का प्रयोग कोरोना महामारी से बचाव हेतु कराया जाना सुनिश्चित करेंगे।

लॉकडाउन के दौरान निराश्रित एवं असहाय मजदूरों को जिला प्रशासन निरंतर रूप से पका हुआ खाना करा रहा है उपलब्ध
विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर
कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए जनपद में निराश्रित मजदूरों एवं श्रमिकों को जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, प्राधिकरण प्रशासन एवं स्वैच्छिक संस्थाओं के संयुक्त तत्वाधान में निरंतर रूप से पका हुआ खाना उपलब्ध कराया जा रहा है ताकि संकट की इस घड़ी में शासन एवं सरकार की मंशा के अनुरूप जनपद में कोई भी श्रमिक एवं मजदूर भूखा रह सकें। इस श्रृंखला में आज चलाए गए संयुक्त प्रयास के दौरान 95 हजार से अधिक निराश्रित श्रमिक एवं मजदूरों को पका हुआ खाना उपलब्ध कराया गया है। जिलाधिकारी सुहास एल0.वाई0. के द्वारा जानकारी देते अवगत कराया गया है कि यह अभियान जनपद में शासन के दिशा निर्देशों के अनुपालन में निरंतर रूप से संचालित किया जा रहा है और यह प्रयास किए जा रहे हैं कि कोई भी मजदूर एवं श्रमिक भूखा रहने पाए। जिलाधिकारी के द्वारा इस संबंध में अपने अधीनस्थ प्रशासनिक अधिकारियों एवं अन्य विभागीय अधिकारियों को निरंतर आदेश भी पारित किए जा रहे हैं ताकि शासन की मंशा के अनुरूप सभी को पका हुआ खाना उपलब्ध हो सके।