BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

आईबीएम करियर एजुकेशन और गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के बीच उद्यम और शिक्षा के क्षेत्र में विचार- विमर्श

विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा
आईबीएम करियर एजुकेशन और गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रविन्द्र कुमार सिन्हा के बीच एक नए और महत्वपूर्ण सहयोग का आयोजन आईबीएम ऑटोमेशन इनोवेशन सेण्टर बैंगलोर में 22-1-2024 को किया गया । इस साझेदारी का उद्देश्य छात्रों को नई तकनीकों और उद्यमों के क्षेत्र में बेहतर तैयार करना है, जिससे वे आने वाले रोजगार की दुनिया में सफलता प्राप्त कर सकें।
सहयोग की बातचीत में विस्तृत चर्चा:

इस सहयोगके तहत, प्रो. सिन्हा और आईबीएम करियर एजुकेशन के विशेषज्ञों ने विस्तृत चर्चा की है जिसमें वे नई तकनीकों और उद्यमों के क्षेत्र में छात्रों की तैयारी को कैसे सुनिश्चित कर सकते हैं। यह चर्चा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, बड़ा डेटा, और साइबर सुरक्षा जैसी नई तकनीकों की ओर ध्यान केंद्रित है, जिनसे छात्रों को आगे बढ़ने के लिए बेहतर तैयारी मिल सके।
चर्चा में शामिल होने वाले आईबीएम के करियर एजुकेशन के राष्ट्रीय हेड, जगदीश भट्ट, और उत्तर और मध्य भारत के आईबीएम करियर एजुकेशन के हेड, गगन अग्रवाल, ने भी अपने मूल्यवान ज्ञान और दृष्टिकोण साझा किया।
छात्रों की तैयारी में नई दिशा:

इस साझेदारी का मुख्य उद्देश्य छात्रों को नई तकनीकों और उद्यमों के क्षेत्र में बेहतर तैयार करना है, ताकि वे आने वाले जीवन में सफलता प्राप्त कर सकें। चर्चा के दौरान, विशेषज्ञों ने इस पर जोर दिया कि कैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, बड़ा डेटा, और साइबर सुरक्षा के शिक्षा क्षेत्र में उपयोग किया जा सकता है ताकि छात्र अपनी तैयारी को और भी मजबूत कर सकें।
प्रो. सिन्हा ने ये भी बताया कि इन नई तकनीकों के अध्ययन से कैसे छात्रों को नौकरी के अवसरों में बेहतर तैयार किया जा सकता है। उन्होंने यहां तक विशेष रूप से बताया कि छात्रों को कैसे ये तकनीकें उनके भविष्य को रोजगार और उद्यमिता के क्षेत्र में स्थापित करने में मदद कर सकती हैं।

शिक्षा और उद्योग के बीच साझेदारी:

चर्चा में, प्रो. सिन्हा ने यह भी ध्यान केंद्रित किया कि कैसे शिक्षा और उद्योग के बीच मजबूत साझेदारी को बढ़ावा दिया जा सकता है। इस साझेदारी का उद्देश्य नई तकनीकों की शिक्षा को सार्थक बनाना है, ताकि छात्र व्यावासिक संदर्भ में सीधे रूप से लागू कर सकें और उन्हें अधिक उद्यमिता और रोजगार के अवसर मिल सकें।

सफलता की दिशा में कदम:

इस कार्यकर्म के सफल आयोजन के बाद, यह साझेदारी एक नई दिशा में कदम बढ़ाने के लिए एक सशक्त मंच प्रदान करेगी। यह उद्यम और शिक्षा के क्षेत्र में एक सशक्त भविष्य बनाने की कड़ी मेहनत का हिस्सा है और इसके माध्यम से हम सामूहिक रूप से समृद्धि की ओर बढ़ सकते हैं। इस साझेदारी के माध्यम से, गौतम बुद्धा विश्वविद्यालय के छात्रों को उच्च गुणवत्ता वाली तकनीकी शिक्षा और उद्यमिता के क्षेत्र में सामरिक बनाने का लक्ष्य रख रहे हैं।