>

फिजियोथेरेपी उपचार का एक ऐसा विकल्प है, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के बीमारी को आसानी से दूर करने में मददगार होता है  : विशाल पांडेय एडीसीपी ग्रेटर नोएडा

 

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 फिजियोथेरेपी उपचार का एक ऐसा विकल्प है, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के बीमारी को आसानी से दूर करने में मददगार होता है। उपरोक्त शब्द एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा विशाल पांडेय ने  "फेथ फिजियोथेरेपी एंड रीहैब सेंटर" के उद्घाटन के अवसर पर कहे ।  इससे पहले कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा विशाल पांडेय व एसीपी प्रथम महेंद्र  सिंह देव  ने फीता काटकर एफ -90, अल्फा स्थित "फेथ फिजियोथेरेपी एंड रिहैब सेंटर" का शुभारम्भ  किया। इस मौके पर मुख्य अतिथि एडीसीपी विशाल पांडेय ने कहा कि  फिजियोथेरेपी प्राचीन आयुर्वेद का ही प्रमुख अंग है।  प्राचीन समय में शरीर के विभिन्न अंगों के बिंदु को दबाकर  इलाज किया  जाता था।  उसी का आधुनिकीकरण फिजियोथेरेपी है।  उन्होंने कहा कि केवल दवाओं की मदद से कुछ स्वास्थ्य समस्याओं को पूरी तरह दूर करना बहुत कठिन  होता है। इसके अलावा दवाई निरंतर सेवन से साइड इफेक्ट की भी आशंका बढ जाती है। ऐसे में फिजियोथेरेपी उपचार का एक ऐसा विकल्प है, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के बीमारियों  को आसानी से दूर करने में मददगार होता है। इस मौके पर लोगों को सम्बोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि एसीपी प्रथम व नेशनल जिम्नास्टिक खिलाड़ी महेंद्र सिंह देव ने कहा कि  एक खिलाड़ी के फिटनेस के लिए फिजियोथेरेपी बहुत महत्वपूर्ण  है।  उनके फिटनेस, स्पोर्ट्स का  फिजियोथेरेपी से पुराना नाता रहा है। 

>
>
उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में लोग जंक फ़ूड  का ज्यादा सेवन  कर रहे है जिसका नतीजा लोगों का  वजन बढ़ रहा  है।  यह कमर व  घुटने कर दर्द का कारण  है। ऐसे  में फिजियोथेरेपी से इसका उपचार कारगर है क्योंकि इसका कोई साइड एफेक्ट नहीं है। ऐसे लोगों को फिजियोथेरेपी के द्वारा अपना उपचार कराना चाहिए। इस मौके पर फेथ फिजियोथेरेपी के निदेशक डॉ. अजय कुमार ने कहा कि सेंटर  में गर्दन दर्द, कमर दर्द, लकवा, साइटिका, घुटने का दर्दस्लिप डिस्क, कोहनी व एड़ी दर्द, फ्रैक्चर एवं ऑपरेशन के बाद की परेशानियां, ऑपरेशन बाद की जकड़न, मांसपेशियों का सूनापन,  हाथ पैरों की झनझनाहट,  डिस्क का दबाव, मांसपेशियों की चोट आदि का उपचार किया जाएगा। इस अवसर पर संस्था के संरक्षक संजय श्रीवास्तव व संजय श्रीवास्तव  नाटी ने पुष्प गुच्छ देकर अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन रोहित कुमार ने किया। कार्यक्रम में बीटा 2 के एसएचओ अनिल राजपूत, मीनू सिंह, संजय श्रीवास्तव, जितेन्द्र मावी , ज्योति सिंह , साधना सिन्हा , रूपा गुप्ता , उज्जवल ठाकुर, रोहित कुमार,  मोहित कुमार, बिट्टू  सिंह, अलोक यादव,अभिषेक यादववंशिका , शीला, पल्लव  आदि मौजूद रहे।