>

>


पैसा वापस करने और अन्य फायदो का झांसा देकर लोगों से धोखाधडी करना, पुलिस ने गिरफ्तार  किए गए अभियुक्तों को एसीजेएम-की अदालत में पेश कियातत्पश्चात सभी 16 अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया 

>

 


विजन लाइव/गौतमबुधनगर

गौतमबुद्धनगर अदालत ने साईबर सेल व थाना सेक्टर-113 नोएडा पुलिस द्वारा फर्जी कॉल सैंटर खोलकर इंश्योरेंस पालिसी सैटलमैंट करने के नाम पर ठगी करने वाले गैंग के 16 सदस्यो को  न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता नीतू बिश्नोई ने बताया कि  दिनांक 01.06.2022 को   साइबर सेल गौतमबुद्धनगर व थाना सेक्टर-113 नोएडा पुलिस द्वारा मु000-146/22 धारा 420 भादवि व 66 आईटी एक्ट से सम्बन्धित फर्जी कॉल सैंटर खोलकर इंश्योरेंस पालिसी सैटलमैंट करने के नाम पर ठगी करने वाले गैंग के सदस्यो 1.सोनू कुमार पुत्र देवेन्द्र सिंह निवासी मकान न० 24 , गली न० 3 मीत नगर दिल्ली 2.रोहित कटारिया पुत्र रविन्द्र कटारिया निवासी मकान नंबर D 60 राज नगर लोनी रोड गाजियाबाद 3. अश्वनी कुमार पुत्र संतोष कुमार निवासी A – 24 , पंचवटी कॉलोनी लोनी गोल चक्कर गाजियाबाद 4. राहुल पुत्र महेंद्र सिंह निवासी मंडोली रोड सेवाधाम मंदिर लोनी गाजियाबाद 5. नीलेश पुत्र सर्वेश सक्सेना निवासी E – 308 गली न० 11 ईस्ट गोकल पूरी दिल्ली 6. अजय कुमार उर्फ़ सोनू पुत्र जगदीश चन्द निवासी म० न० 168 वार्ड न० 2  अहीरवाडा बल्लभगढ फरीदाबाद हरियाणा 7.संध्या पुत्री राजेंद्र कुमार निवासी गली न० 18  हर्ष विहार लाल मंदिर , 8 . चंचल पुत्री गजेन्द्र निवासी B – 811 गगन विहार भोपुरा  गाजियाबाद 9 . संजना पुत्री संजय बाजपयी निवासी B- 1/762 गली न० 25 हर्ष विहार दिल्ली 10. श्रुति पुत्री सुनील कुमार निवासी सी ब्लाक , गली न० 4 गगन विहार भोपुरा गाजियाबाद 11 . अंजलि पुत्री राकेश निवासी सी 18 गगन विहार भोपुरा गाजियाबाद 12 . मोहिनी पुत्री चन्दन सिंह निवासी सी 227 गगन विहार भोपुरा गाजियाबाद 13 . केसर पुत्री उमेश कुमार सक्सेना निवासी फ्लैट न० 1101 जनता फ्लैट नन्द नगरी दिल्ली 14 . चंचल गुप्ता पुत्री फूल चन्दगुप्ता बी 2/433 नन्द नगरी दिल्ली 15. प्रियंका पुत्री गंगा राम निवासी म० न० 21 गली न० 2 जगदम्बा कॉलोनी जोहरीपुर  दिल्ली 16. बरखा पुत्री फ़तेह सिंह निवासी D- 1 , 1017 , गली न० 26, हर्ष विहार दिल्ली को C -84 , DLF एक्सटेंशन -2 दिलशाद प्लाजा भोपुरा , गाजियाबाद को गाजियाबाद भौपरा से गिरफ्तार किया गया है कब्जे से 16 मोबाइल, एक लेपटॉप, एक लाख पचास हजार रुपये नकद बरामद। अभियुक्तगण द्वारा  फर्जी कॉल सैंटर खोलकर फर्जी सिम  मोबाइल का प्रयोग करते हुये लोगों को पालिसी के एवज में पालिसी जिनकी किश्त जमा नहीं होती का पैसा वापस करने और अन्य फायदो का झांसा देकर लोगों से धोखाधडी करना। पुलिस ने इन    गिरफ्तार  किए गए अभियुक्तों को एसीजेएम-1 की अदालत में पेश किया, तत्पश्चात सभी 16 अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।