प्रत्येक वर्ष महान समाज सुधारक महर्षि दयानंद सरस्वती की जयंती  राष्ट्रीय यज्ञ दिवस के रूप में मनाई जाएगी 
विजन लाइव/ गौतमबुद्धनगर
 27 फ़रवरी-2022 को महर्षि दयानंद सरस्वती जयंती के अवसर पर   विश्व शांति युद्धों से मुक्त दुनिया के लिए 101 कुंडीय महायज्ञ किया गया । महर्षि दयानंद सरस्वती के 198 वे जन्मदिवस पर महात्मा हंसराज आदर्श विद्यालय बंबावड़ में धूमधाम से संपन्न हुआ 101 कुंडीय महायज्ञ। जिला  आर्य समाज ने एक स्वर से यह प्रस्ताव पारित किया कि प्रत्येक वर्ष महान समाज सुधारक महर्षि दयानंद सरस्वती की जयंती  राष्ट्रीय यज्ञ दिवस के रूप में मनाई जाएगी । महामहिम राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नाम इस मांग को लेकर ज्ञापन भी दिया गया। साथ ही विश्व शांति की भी कामना वेद मंत्रों से की गई। सैकड़ों अतिथियों को वैदिक साहित्य सत्यार्थ प्रकाश ग्रंथ निशुल्क भेंट किया गया। वर्तमान में विश्व में चल रहे रूस यूक्रेन युद्ध मानवता के हित में शीघ्र समाप्त हो इसकी भी कामना की गई। 151 कलशो के साथ 2 किलोमीटर लंबी ग्राम बंबावड़ से लेकर कार्यक्रम स्थल तक वेद तीर्थ यात्रा भी निकाली गई। सैकड़ों परिवारों को दैनिक यज्ञ करने का प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर हजारों श्रद्धालु सैकड़ों यजमान परिवार उपस्थित रहे। गुरुकुल मुर्शदपुर ग्रेटर नोएडा ,गुरुकुल लाल कुआं गाजियाबाद के ब्रह्मचारीयो ने वेद विद्या का प्रदर्शन किया, सस्वर वेद पाठ किया और योग व्यायाम कला का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम का संचालन आर्य सागर खारी, कार्यक्रम की अध्यक्षता रामेश्वर सरपंच  और संयोजन अध्यक्षजिला आर्य प्रतिनिधि महेंद्र आर्य ने किया। इस अवसर पर आयोजक मंडल की तरफ से दिवाकर आर्य, रविंदर आर्य, विक्रम देव शास्त्री, विजेंदर आर्य ,चरण सिंह आर्य ,राकेश यादव ,स्वामी प्राण देव कार्यक्रम के ब्रह्मा, मोहनदेव, डॉ राकेश कुमार  मुकेश नागर आर्य, पंडित शिवकुमार आर्य ,अनिता आर्य, पंडित महेन्द्र कुमार आर्य, जिला आर्य समाज मंत्री मूलचंद आर्य,   पंडित  धर्मवीर आर्य ,लीना आर्य, सागर खारी, पंडित कर्मवीर आर्य, धर्ममुनि ,जनपद दीवानी न्यायालय फौजदारी बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील भाटी, कमल सिंह आर्य, भूपेन्द्र आर्य, विपिन आर्य सहित सहित गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।