ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क स्थित आईआईएमटी कॉलेज समूह में शिक्षक दिवस मानाया गया

 


विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क स्थित आईआईएमटी कॉलेज समूह में शिक्षक दिवस मानाया गया। इस दौरान आईआईएमटी कॉलेज के प्रोफेसर को शिक्षा के क्षेत्र में अमूल्य योगदान देने के लिए शिक्षक सम्मान से नवाजा गया। कार्यक्रम की शुरूआत मुख्य अतिथि के तौर पर दादरी विधायक मास्टर तेजपाल नागर ने दीप जलाकर की। इस दौरान कॉलेज समूह के प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, संयुक्त शिक्षा निदेशक मेरठ ओंकार सिंह, एमएलसी चंद शर्मा, जिला विद्यालय निरीक्षक गौतमबुद्धनगर डा0 धर्मवीर सिंह भी मौजूद रहे। गौतमबुद्धनगर जिला शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष सेवा के लिए पत्रकारिता एंव जनसंचार विभाग के डीन डा0 अनिल कुमार निगम, डा0 के.रामा कृष्णा, शीतल नागर, जाइबा इशरत, पंकज झा, डा0 इन्द्रदीप वर्मा, पुष्पेन्द्र, डा0 एपी सिंह, डा0 एस.एन. मिश्रा, सास्वत दास, पोलिटेक्निक कॉलेज के डॉयरेक्टर उमेश कुमार, डीन एकेडमिक डा0 भास्कर गुप्ता, कमल किशोर शर्मा, प्रमोद साजवान, अवधेश कुमार, राजीव रंजन सिंह, जाकिर अली, फार्मेंसी के डॉयरेक्टर डा0 मल्लिकार्जुन बी पी, विपिन भाटी, प्रियंका मल्होत्रा को शिक्षा सम्मान अवार्ड से सम्मानित किया गया। सम्मान समारोह के दौरान छात्रों ने कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन का याद करते हुए कॉलेज समूह के प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल ने कहा कि शिक्षक दिवस पर सम्मानित होने वाले शिक्षकए साथी शिक्षकों के लिए रोल माडल बनेंगे। एक अच्छे शिक्षक की निशानी होती है कि वह हर समय अपने विषय में अपडेट रहे। वहीं दादरी विधायक तेजपाल नागर ने भी अपने विचार शिक्षकों के सामने रखे। उन्होंने कहा कि आज के दौर में शिक्षा के क्षेत्र में नित नए बदलाव हो रहे हैं और शिक्षकों के बदलावों के साथ तालमेल बिठाते हुए गुरू के कर्तव्यों के निर्वाह करना पड़ेगा तभी हम एक अच्छे गुरू कहलाएंगे। वहीं कार्यक्रम में जिले के कई शिक्षकों को भी शिक्षा विभाग की तरफ से सम्मानित किया गया। इसी के साथ ही एमएलसी श्रीचंद शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, संयुक्त शिक्षा निदेशक मेरठ ओंकार सिंह ,जिला विद्यालय निरीक्षक गौतमबुद्धनगर डा0 धर्मवीर सिंह ने भी गुरू और शिष्य के बीच संबंधों को लेकर अपने विचार प्रस्तुत किए।