ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के खैरपुर गुर्जर गांव में 10 प्रतिशत किसान आबादी के भूखंडों के लिए महापंचायत संपन्न

 



महापंचायत में तय किया गया है कि आगामी 22 सितंबर-2021 को दादरी मिहिर भोज कॉलेज में गुर्जर प्रतिहार सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण करने के लिए आ रहे मुख्यमंत्री से मुलाकात का समय मांगा जाएगा और मुख्यमंत्री को किसान इन तमाम मुद्दों से अवगत कराएंगे। उन्होंने साथ ही ऐलान किया कि यदि मुख्यमंत्री से मुलाकात नही हो पाती है और वहीं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण भी इस समस्या का निस्तारण नही कर पाता है, तो फिर फिर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर जोरदार धरना प्रदर्शन किया जाएगाः विनोद वर्मा एडवोकेट संस्थापक सदस्य किसान संघर्ष समिति

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के खैरपुर गुर्जर गांव में 10 प्रतिशत किसान आबादी के भूखंड के लिए एक महापंचायत का आयोजन किया गया। महापंचायत में तय किया गया कि आने वाले समय में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण 10 प्रतिशत किसान आबादी के भूखंड आवंटित नही करता है, तो फिर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर जोरदार धरना प्रदर्शन किया जाएगा। किसान संघर्ष समिति के संस्थापक सदस्य विनोद वर्मा एडवोकेट ने बताया कि माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने रिट सख्या 37443 सन 2011 गजराज व अन्य बनाम राज्य में दिनांक 21.10.2011 को आदेश दिया था कि किसानों को 64.07 प्रतिशत अतिरिक्त प्रतिकर तथा 6 प्रतिशत विकसित भूखंड के स्थान पर 10 प्रतिशत विकसित भूखंड दिए जाएं,जिसकी पुष्टि सिविल अपील 4506 सन 2014 सावित्री देवी व अन्य बनाम राज्य में माननीय उच्चतम नयायालय ने आदेश दिनांक 14.5.2015 में की है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने उक्त आदेशानुसार ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के समस्त 42 गावों के समस्त किसानो को 64.07 प्रतिशत अतिरिक्त प्रतिकर दे दिया, मगर 10 प्रतिशत विकसित भूखंड आज तक नही दिए हैं। 10 प्रतिशत अतिरिक्त विकसित भूखंड केवलं उन्ही किसानो को दिए गए हैं जो न्यायालय गये थे अन्य किसानो को 10 प्रतिशत विकसित भूखंड सें वंचित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अपनी 104 वीं बोर्ड बैठक में यह प्रस्ताव पास किया था कि ग्रेटर नोएडा के समस्त किसानो को 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड यानि 10 प्रतिशत विकसित भूखंड दिए जाएगें तथा उक्त प्रस्ताव को अनुमति के लिए दिनांक 29.7.2016 को शासन को भेजा था, उस प्रस्ताव शासन ने दिनांक 21.9.2016 को निरस्त कर दिया। इससे भी बडा धोखा किसानो के साथ यह किया गया कि प्रस्ताव के निरस्त करनें की सूचना ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को 10 मई 2019 को दी गई। एक तरफ प्राधिकरण के अधिकारी ग्रेटर नोएडा के समस्त 50 हजार किसानों को 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड सें वंचित कर रहें है दूसरी तरफ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण अधिकारियों द्वारा बहुत बड़ा भूमि व पैसो का घोटाला किया जा रहा है। गांव खैरपुर गुर्जर ग्रेटर नोएडा के समस्त किसानो को 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड देने के लिए केवल 12 हेक्टेयर भूमि चाहिए परंतु गांव खैरपुर गुर्जर ग्रेटर नोएडा में आबादी के नाम पर फर्जी तरीके से कृषि भूमि पर फर्जी तरीके से आबादी दर्शा कर चन्द कथित किसान नेताओं के नाम पर 13 हेक्टेयर 1856 वर्ग मीटर भूमि छोडी गई है जो केवल 100 रूपये के सटांप पेपर पर बिना विकास शुल्क लिए छोडी जा रही है। यदि गांव खैरपुर गुर्जर ग्रेटर नोएडा के समस्त किसानो को 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड दिए जाएं तो केवल 12 हेक्टेयर भूमि चाहिए। 12 हेक्टेयर भूमि के बदले किसान प्राधिकरण को 965 रूपये प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से विकास शुल्क 11 करोड़ 58लाख रूपये देंगे तथा रजिस्ट्री होंने पर सरकार को अलग से करोडों रूपये मिलेंगे। यदि चन्द कथित किसान नेताओं के नाम पर गांव खैरपुर गुर्जर ग्रेटर नोएडा में आबादी के नाम पर जो 13 हेक्टेयर 1856 वर्ग मीटर भूमि फर्जी तरीके से छोडी गई हैं उसे निरस्त करके गांव खैरपुर गुर्जर ग्रेटर नोएडा के समस्त किसानो को 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड दिए जाएं जिसके लिए 12 हेक्टेयर भूमि चाहिए उसके अलावा जो भूमि 1 हेक्टेयर 1856 वर्ग मीटर भूमि बचेगी जिसकी कीमत सेक्टर रेट 13 हजार रूपये है के हिसाब से प्राधिकरण को 15 करोड 41लाख 28 हजार रूपये मिलेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि इस प्रकार अकेले गांव खैरपुर गुर्जर से ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को लगभग 40 करोड का नुकसान हुआ है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के समस्त 42 गांवो के 2300 किसानो के नाम पर फर्जी तरीके से कृषि भूमि पर फर्जी तरीके से आबादी दर्शा कर हजारों हैक्टेयर भूमि छोडी गई हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के समस्त 42 गावों के लगभग 50 हजार किसान परिवारों को 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड सें वंचित किया जा रहा है, जिसे कतई भी बर्दाश्त नही किया जाएगा। इस मुद्दे को लेकर कुछ दिन पूर्व गौतमबुद्ध बालक इंटर कॉलेज में बैठे ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अपर मुख्य कार्यापालक अधिकारी को ग्रामीणों ने एक ज्ञापन सौंपा था और तब अपर मुख्य कार्यापालक अधिकारी ने 15 दिन मेंं समस्या के निस्तारण का आवश्वासन दिया था मगर आज भी ग्रामवासी 4 प्रतिशत अतिरिक्त भूखंड सें वंचित है और कोई भी समाधान नही किया गया है। उन्होंने कहा कि महापंचायत में तय किया गया है कि आगामी 22 सितंबर-2021 को दादरी मिहिर भोज कॉलेज में गुर्जर प्रतिहार सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण करने के लिए आ रहे मुख्यमंत्री से मुलाकात का समय मांगा जाएगा और मुख्यमंत्री को किसान इन तमाम मुद्दों से अवगत कराएंगे। उन्होंने साथ ही ऐलान किया कि यदि मुख्यमंत्री से मुलाकात नही हो पाती है और वहीं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण भी इस समस्या का निस्तारण नही कर पाता है, तो फिर फिर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर जोरदार धरना प्रदर्शन किया जाएगा। महापंचायत में इस मौके पर प्रवीन कुमार शर्मा, रवि गुर्जर समेत दर्जनों की संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।