यदि 20 दिनों में मांगें पूरी नही की गई तो किसानों द्वारा क्षेत्र के सारे औद्योगिक कार्य बंद कर दिए जाएंगेः सोरन प्रधान

 









विजन लाइव/दनकौर

किसान एकता संघ ने राष्ट्रीय अध्यक्ष सोरन प्रधान के नेतृत्व में किसानों की 64.07 प्रतिशत अतरिक्त प्रतिकर, आबादी निस्तारण, आवासीय विकसित भूखण्ड आदि मांगों को लेकर किसानों तथा ट्रैक्टरों के साथ यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक प्राधिकरण का घेराव करने के लिए कैंप कार्यालय दनकौर से पैदल कूच किया। जैसे ही किसानों का पैदल मार्च दनकौर के सालारपुर अंडरपास पर पहुंचा किसानों और पुलिस के बीच भारी नोंक झोंक हुई। आखिर प्रशासन ने भारी पुलिस बल के साथ बेरिकेडिंग करके किसानों को रोक लिया। उसके बाद सभी किसान अंडरपास के नीचे ही बैठकर महापंचायत करने लगे उसके बाद मौके पर पहुंचे एडीसीपी विशाल पाण्डेय,एसीपी बृजनंदन राय तथा यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक प्राधिकरण के एसीईओ रविंद्र सिंह,ओएसडी मेहराम सिह ने किसानों की सभी मांगों के जल्द से जल्द निस्तारण हेतु प्रतिबद्ध होने की बात कही। इस मौके पर राष्ट्रीय अध्यक्ष सोरन प्रधान ने यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक प्राधिकरण तथा प्रशासन के अधिकारीयो को 20 दिनों का अल्टीमेटम दिया कि यदि 20 दिनों में मांगें पूरी नही की गई तो किसानों द्वारा क्षेत्र के सारे औद्योगिक कार्य बंद कर दिए जाएंगे, साथ ही अगस्त महीने में जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास करने आ रहे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का विरोध करेंगे। इस मौके बाली सिंह,गीता भाटी,रमेश कसाना,देशराज नागर,  ब्रिजेश भाटी,अखिलेश प्रधान,सतीश कनारसी,राजेंद्र नागर,कृष्ण नागर,अमित अवाना,धर्मपाल प्रधान,जग्गा अधाना,जितेन्द्र, दरियाव सिंह,विकास भाटी,मनोज नागर,जगदीश शर्मा,बिज्जन नागर,ओमबीर नागर,रामानद कसाना,लोकेश भाटी,राकेश चौधरी,वीके चौधरी,सुमित चपरगढ,मोहन पाल आदि किसान एकता संघ के कार्यकर्तागण मौजूद रहे।