महिला मतदाता पंजीकरण किस प्रकार बढ़ाया जाए, मथुरा स्वीप टीम द्वारा वेबीनार संपन्न

 


विजन लाइव/मथुरा-वृंदावन

स्वीप टीम द्वारा एक वेबीनार का आयोजन किया गया, जिसका विषय रहा महिला मतदाता पंजीकरण किस प्रकार बढ़ाया जाए। वेबीनार का शुभारंभ करते हुए नगर मजिस्ट्रेट और स्वीप नोडल ऑफिसर मथुरा जवाहर लाल श्रीवास्तव ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि महिला मतदाताओं की भागीदारी सुनिश्चित करना आवश्यक है। इसके लिए जरूरी है कि महिला मतदाता पंजीकरण अभियान को गति दी जाए और बी.एल.ओ. अपने अपने क्षेत्र में और अधिक सक्रियता से कार्य करते हुए घर.घर संपर्क कर महिला  मतदाता पंजीकरण करवाएं। नैमिष शर्मा ने महिला मतदाता जागरूकता के ऊपर स्वरचित काव्य पाठ किया। योगेश मूर्ति जीएलए विश्वविद्यालय छाता स्वीप कोऑर्डिनेटर ने कहा कि लोकतंत्र में इस लैंगिक असमानता को दूर किया जाना आवश्यक है और देखने में आता है कि महिलाएं पंजीकरण करवाने में उतनी रुचि नहीं लेती है जिस के संदर्भ में उन्हें जागरूक किया जाना आवश्यक है। डा0 >अखिलेश यादव ईएलसी प्रभारी ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जितने भी नोडल अधिकारी विद्यालय महाविद्यालय स्तर पर बनाए गए हैं और कैंपस एंबेसडर बनाए गए हैं वह अपनी अपनी टीम के साथ इस जागरूकता को फैलाने में सहयोग करें। डा0 दीनदयाल एन एस एस अधिकारी ने अपने विचार साझा करते हुए कहा कि शहरी क्षेत्र में भी महिलाओं को जागरूक करना आवश्यक है क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र में तो महिला मतदान प्रतिशत ठीक रहता है परंतु शहरी क्षेत्र में महिला मतदान प्रतिशत पिछड़ जाता है। डा0 अशोक वर्मा एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रत्येक विद्यालय में 18 वर्ष पूर्ण होने वाले और पूर्ण हो चुके छात्र.छात्राओं का पंजीकरण मतदाता के रुप में विद्यालय स्तर पर ही करवा दिया जाना चाहिए और उन्हें प्रेरित किया जाए कि वह अपने परिवार की महिलाओं का भी मतदाता पंजीकरण करवाएं। सुनीता पुष्कर ने बहुत सुंदर पोस्टर बनाया और साझा किया जिसमें बहुत ही अच्छी प्रकार से महिला मतदाता पंजीकरण के ऊपर प्रकाश डाला गया। पोस्टर के माध्यम से उन्होंने अपने विचार साझा किए। पूजा अग्रवाल द्वारा पंजीकरण बढाने हेतु सुझाव दिए गए। डा0 कविता सक्सेना ने कहा कि महिलाओं की  भागीदारी बनाने के लिए विद्यालय स्तर पर अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाने चाहिए और क्षेत्र में भी जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएं जिससे महिला मतदाता पंजीकरण अभियान को गति मिल सके। गुरूप्यारी सत्संगी ने कहा कि महिला सप्ताह का आयोजन किया जाना चाहिए। डी.सी. राजोरिया द्वारा ऑफ लाईन और ऑनलाईन पंजीकरण फार्म भरने की एंव वोट एप की जानकारी विस्तृत से रूप से दी गई। स्वीप कोऑर्डिनेटर डा0 पल्लवी सिंह ने अपने विचार साझा करते हुए कहा कि स्वीप के द्वारा निरंतर महिला मतदाता पंजीकरण अभियान के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहे हैं और अधिक से अधिक संख्या में महिला संगठनों को जोड़ने पर उन्होंने जोर दिया जिससे महिलाओं में मतदान के प्रति व मतदाता पंजीकरण के प्रति जागरूकता फैलाई जा सके। डा0 अनीता मुद्दगल ने समापन करते हुए और वेबीनार में सम्मिलित सभी प्रबुद्ध जनों का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि सभी को एक टीम की तरह मिलकर कार्य करना है जिससे महिला मतदान प्रतिशत और मतदाता पंजीकरण बढ़ाया जा सके। वेबीनार का संचालन जिला मास्टर ट्रेनर मनीष दयाल ने किया। वेबीनार में मुख्य रूप से वृषभान गोस्वामी, पूजा गुप्ता, सुमन शर्मा, सुशीला चौधरी, सुनीता गुप्ता, मुदृल शर्मा, बृजराज सारस्वत, कल्पना सिंह आदि ने प्रतिभाग किया।