सैफी-डे (सैफी समारोह ) में सैफी संघर्ष समिति( पंजीकृत )गौतमबुद्धनगर जिलाध्यक्ष अयुब खान सैफी की अगुवाई मेंं सैफी समाज के सरदार भाग लेंगे

 


मौहम्मद इल्यास/गौतमबुद्धनगर

47 वां सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह 6 अप्रैल 2021 को दिल्ली में मनाया जाएगा। इस 47 वें सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह में गौतमबुद्धनगर से सैफी संघर्ष समिति( पंजीकृत ) के जिलाध्यक्ष अयुब खान सैफी की अगुवाई मेंं सैफी समाज के सरदार भारी संख्या में भाग लेंगे। भारतीय सैफी- डे- कमेटी के कन्वीनर शाहनवाज सैफी ने बताया कि47 वां सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह 6 अप्रैल 2021 को नई दिल्ली स्थित ब्रिस्टल फार्म में संपन्न होगा। सैफी समाज द्वारा आयोजित होने वाले इस भव्य समारोह में तिलावत-ए-कलाम-ए-पाक, खिराज-ए- अकीदत, नात-ए-पाक, इस्तकबालिया खिताब और स्कूली बच्चों को इनामात व प्रमाण पत्र तकसीम किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि साथ ही 47 वें सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह में सैफी दपर्ण, सैफी डे गाईड व गुलशन-ए- इस्लाम का इजरा, सैफी अवार्ड एवं सैफी एजाज का वितरण, मेहमानों द्वारा खिताब, प्रोग्राम समापन अध्यक्ष द्वारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सैफी बिरादारी के सरदारों को चाहिए कि किताब फ्री पाने के लिए टोकन 5-6 बजे तक प्राप्त कर लें। साथ ही कोविड-19 के नियमों का पालन मेहमानों व इंतजामिया के सभी हजरातों के लिए अहम होगा। वहीं गौतमबुद्धनगर से भी इस 47 वें सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह में सैफी संघर्ष समिति( पंजीकृत ) के जिलाध्यक्ष अयुब खान सैफी की अगुवाई मेंं सैफी समाज के सरदार भाग लेंगे। सैफी संघर्ष समिति( पंजीकृत ) के जिलाध्यक्ष अयुब खान सैफी ने ’’विजन लाइव’’ डिजिटल मीडिया को बताया कि गौतमबुद्धनगर के नोएडा, दादरी, ग्रेटर नोएडा, बिलासपुर, दनकौर, रबूपुरा और जेवर कसबों और ग्रामीण क्षेत्रों से सैफी समाज के लोग 47 वें सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह मे अच्छी खासी तादाद में शिरकत करेंगे। उन्होंने बताया कि सैफी समाज अब शैक्षिक रूप से निरंतर नई उंचाईयों को छू रहा है। मुस्लिम समाज में सैफी बिरादारी का महत्वपूर्ण स्थान है, जो समाज की मुख्य धारा में शामिल होकर देश के निमार्ण और विकास के लिए कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि 47 वें सैफी-डे (यौम- ए- सैफी) समारोह में समाज के बारे में क्या बदलाव होना चाहिए, इस पर चर्चा होगीं। साथ ही जिम्मेदार लोगों को आगे आना चाहिए और जिन लोगों के बच्चे पढ़ने में अच्छे हैं उन लोगों को सपोर्ट करना चाहिए।