किसान जागरूकता विचार गोष्ठी में वक्ताआेंं ने किसानों के समर्थन में और भाजपा किसान विरोधी नीति को लेकर किसानों को जागरूक किया

 





विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 गौतमबुद्धनगर समाजवादी पार्टी के तत्वाधान में कृषि अध्यादेशों को लेकर दनकौर क्षेत्र के अट्टा फतेहपुर गांव में एक किसान जागरूकता विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस किसान जागरूकता विचार गोष्ठी में वक्ताआेंं ने किसानों के समर्थन में और भाजपा किसान विरोधी नीति को लेकर किसानों को जागरूक किया। समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष बीर सिंह यादव ने कहा कि कृषि अध्यादेशों को लेकर भाजपा छलवा कर रही है। यदि कृषि अध्यादेश वापस नही हुए तो किसान लुटना शुरू हो जाएगा। सपा किसानों की इस लडाई में खुल कर मैदान में कूद चुकी है और जब तक किसानों को उनका हक नही मिल जाता चुप नही बैठेंगे। समाजवादी पार्टी मजदूर सभा के प्रदेश सचिव चौधरी हसरूद्दीन ने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में भारी अंतर है। कृषि अध्यादेश के सहारे भाजपा सरकार पूंजीपतियों के लिए किसानों की फसलों का सौदा कर रही है। यदि सरकारी मंडी की खत्म हो जाएंगी तो मजबूरी में किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए पूंजीपतियों की निजी मंडियों अथवा स्टोरेज में गिडगिडाना पडेगा और ऐसी स्थिति में किसान उसकी उपज का उचित दाम बिल्कुल नही मिलेगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी किसानों के साथ होने वाली लूट को कतई सहन नही करेगी और जब तक किसानों को उनकी हक नही मिल जाता है, पार्टी कार्यकर्ता चैन से नही बैठेंगे। इस विचार गोष्ठी का संचालन चौधरी जतन सिंह प्रधान ने करते हुए कहा कि किसानों के साथ हो रही लूट को कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा। जब यह काला कानून वापस नही हो जाता, सपा कार्यकर्ता किसानों की आर पार की लडाई लडेंगे। इस मौके पर इमरान अटटा फतेहपुर, कुंवर औरंगजेब, नरेंद्र नागर, जतन प्रधान, अकरम, उमर मौहम्मद, शाहरूख मंढपा, शाहरूख उस्मानपुर, रविंद्र प्रधान, हैप्पी पंडित आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।