विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा


किसान एकता संघ के पदाधिकारियों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष सोरन प्रधान के नेतृत्व में यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ अरुणवीर सिंह की मौजूदगी में प्राधिकरण के एसीईओ रविंदर सिंह ओएसडी शैलेंद्र भाटिया जीएम प्रोजेक्ट के के सिंह मौजूदगी में प्राधिकरण के बोर्ड रूम में वार्ता की। इस संबंध में संगठन के जिलाध्यक्ष कृष्ण नागर ने कहा कि मीटिंग में सीईओ ने किसानों को प्राधिकरण की तरफ से लिखित आश्वासन का लेटर दिया और कहा कि प्राधिकरण 64.07 प्रतिशत अतिरिक्त मुआवजा और 10 प्रतिशत विकसित भूखंड देने के लिए प्रतिबद्ध है। साथ ही किसी भी किसान से अब तक बटे अतिरिक्त मुआवजे की रिकवरी नहीं की जाएगी। प्राधिकरण ने सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर कर दी है और आबादी बैकलीज 25 सितंबर  से शुरू कर दी जाएगी। गांवों के मेन रोडो को जल्द ही बनवाया जाएगा, जल्द ही टेंडर प्रक्रिया चालू हो जाएगी। स्मार्ट विलेज के तहत सभी गांवों का विकास कराया जाएगा। इस मौके पर सोरन प्रधान,प्रताप नागर,रमेश कसाना,सुमित  चपरगढ,कृष्ण नागर,बले नागर, थान सिंह मुखिया,दीपक नागर, श्यामवीर आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।