कर्ज मुक्त कर, स्वामीनाथन रिपोर्ट के अनुसार सभी फसलो का समर्थन मूल्य तय करने का अधिकार किसानों को दिया जाएः सोरन प्रधान

 किसान एकता संघ के कार्यकर्ताओं की बैठक दनकौर कैंप कार्यालय पर संपन्न



विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 किसान एकता संघ के कार्यकर्ताओं की बैठक दनकौर कैंप कार्यालय पर संपन्न हुई। बैठक में हरियाणा सरकार के इशारे पर पुलिस द्वारा कुरुक्षेत्र के पीपली में किसानों पर लाठी चार्ज किए जाने के मुद्दे पर चर्चा हुई। इस दौरान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोरन प्रधान ने कहा कि हरियाणा के कुरुक्षेत्र के पीपली में पुलिस द्वारा देश के अन्नदाता पर जो लाठी चार्ज किया है वो बहुत ही दुखद और निन्दनीय है। इसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  केन्द्र सरकार द्वारा जो तीन किसान विरोधी अध्यादेश पारित किए हैं वो तुरंत वापस लिए जाएं। उन्होंने कहा कि देश के संपूर्ण किसानों को कर्ज मुक्त किया जाए तथा स्वामीनाथन रिपोर्ट के अनुसार सभी फसलो का समर्थन मूल्य तय करने का अधिकार किसानों को दिया जाए। इसके साथ ही कम खरीद पर दण्डनीय अपराध घोषित किया जाए। राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रमेश कसाना ने कहा कि जल्दी ही इन मांगों को लेकर किसान एकता संघ के तत्वावधान में संगठन द्वारा देश के प्रधानमंत्री के नाम संपूर्ण देश में जिलाधिकारी कार्यालयों पर ज्ञापन सौंपा जाएगा। इस मौके पर अखिलेश प्रधान,मनोज नागर, संतोष वालियान,प्रमोद गुर्जर,दीपक नागर,हिमाचल कसाना,दुर्गेश शर्मा आदि पदाधिकारी और कार्यकतागण उपस्थित रहे।