ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण तथा प्रशासन कोई भी अवैधानिक कार्यावाही किसानों की जमीन को छीनने के लिए करता है तो ग्रामवासी अपनी जान की बाजी लगा देंगेः संजय सिंह भाटी
विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा
ग्राम मकौड़ा में सामाजिक दूरी का पालन करते हुए संपूर्ण ग्राम की एक मासिक पंचायत का आयोजन किया गया,जिसमें संपूर्ण गांव के लोग सम्मिलित हुए। पंचायत की अध्यक्षता संजय सिंह भाटी ने की तथा संचालन डा0 यतेंद्र भाटी ने किया। पंचायत में ग्रामवासियों ने अपने-अपने मत व्यक्त किए और बताया गया कि गांव मकौड़ा के किसानों की जमीन को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अवैधानिक तरीके से अर्जेंसी क्लॉज लगाकर कर सन 2008 में जबरन अधिग्रहण कर लिया था। आखिर गांव मकौड़ा के किसान राधे श्याम आदि ने मा० उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल की। उक्त याचिका राधे श्याम बनाम उत्तर प्रदेश राज्य में मान्य उच्चतम न्यायालय द्वारा दिनांक 15/04/2011 में उत्तर अधिग्रहण रदद किया जा चुका है। इसके बाद समस्त गांव वासियों के नाम भू-अभिलेख खाता खतौनी में दर्ज कर लिए गए थे। किंतु इसके बाद ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अवैध तथा अनैतिक कृत्य करते हुए अपना नाम भी प्रशासन की मिलीभगत से अवैध रूप से किसानों के नाम के साथ जबरन दर्ज कर दिया। इसके बाद से ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण किसानों के साथ जबरन तथा प्रशासनिक दबाव निरंतर बनाकर एक भय का माहौल पैदा कर रहा है ताकि प्राधिकरण किसानों की जमीन हड़प सके। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के उत्तर कृत्य के खिलाफ संपूर्ण गांव लामबंद हुआ तथा निर्णय लिया गया कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण तथा प्रशासन कोई भी अवैधानिक कार्यावाही किसानों की जमीन को छीनने के लिए करता है तो समस्त ग्रामवासी अपनी जान की बाजी लगा देंगे। किसी भी तरह की कुर्बानी देने के लिए समस्त गांव और विशेषकर युवा आगे रहेंगे और कानूनी लड़ाई से लेकर आंदोलन तक सभी प्रकार से प्राधिकरण के खिलाफ लड़ाई लड़ी जायेगी। इन्ही बातों के साथ पंचायत के अध्यक्ष संजय सिंह भाटी ने पंचायत का समापन किया। इस पंचायत में राजाराम भाटी,जगत सिंह,सुधीर प्रधान, चरण सिंह भाटी एडवोकेट, राजू भाटी प्रधान, नरेंद्र भाटी, सुखबीर सिंह,कपिल भाटी एडवोकेट, कुलदीप भाटी,मिन्टू भाटी एडवोकेट,सुरेंद्र भाटी एवं समस्त ग्रामवासी मौजूद रहे।


>