गांवों के विकास के प्रति ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का सौतेला व्यवहार बिल्कुल बर्दाश्त नहीं- चौधरी प्रवीण भारतीय



विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण अंतर्गत आने वाले बरसात गांव की जलभराव की समस्या को लेकर  करप्शन फ्री इंडिया संगठन के कार्यकर्ता एवं बरसात गांव के ग्रामीणों ने प्राधिकरण कार्यालय पर प्रदर्शन कर प्राधिकरण के महाप्रबंधक एस.सी अरोड़ा को ज्ञापन सौंपा और कार्यवाही की मांग की। करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि बरसात गांव में जलभराव एवं कीचड़ की समस्या को लेकर संगठन के कार्यकर्ताओं ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने बताया कि बरसात गांव में पिछले लंबे समय से गांव के मुख्य रास्तों पर जलभराव एवं कीचड़ की समस्या बनी हुई है, जिस कारण ग्रामीणों को आने-जाने में भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, आए दिन कीचड़ में गांव के बुजुर्ग एवं छोटे बच्चे गिरकर चोटिल हो रहे हैं। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि इस संबंध में संगठन के बैनर तले पहले भी कई बार शिकायत की गई है, लेकिन कार्यवाही नहीं हो पाई है, जिस कारण समस्या जस की तस बनी हुई है। उन्होंने बताया कि बारिश के मौसम में कीचड़ एवं जलभराव होने के कारण संक्रमण रोग फैलने का खतरा बना हुआ है। प्राधिकरण के अधिकारी विकास के नाम पर गांवों में खानापूर्ति कर रहे है और गांवों के विकास को लेकर लगातार सौतेला व्यवहार किया जा रहा हैं जिसको संगठन बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगा। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि अगर 1 सप्ताह में समस्या का समाधान नहीं हुआ तो संगठन के कार्यकर्ता एवं ग्रामीण प्राधिकरण कार्यालय पर उग्र आंदोलन करेंगे जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। इस दौरान, आलोक नागर, नीरज भाटी, रिंकू बैसला, राहुल भाटी, रामकिशन, संतराम, यशराज, रविंद्र नागर, अमित भाटी, बबली, लाला, विनोद नागर, बलजीत सिंह और सतपाल सिंह आदि पदाधिकारी और ग्रामीण मौजूद रहे।