चीन के राष्ट्रपति का पुतला फूंक कर करप्शन फ्री इंडिया के कार्यकर्ताओं ने जताया विरोधःचौधरी प्रवीण भारतीय

 विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा
पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन की तरफ से किए गए झड़प में भारतीय सेना के कर्नल एवं कई जवान शहीद होने के विरोध में ग्रेटर नोएडा के  तुगलपुर गांव में बेक्शन कॉलेज के समीप करप्शन फ्री इंडिया संगठन के कार्यकर्ताओं ने चीन के राष्ट्रपति का पुतला जलाकर विरोध किया। विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम संगठन के कोर कमेटी के सदस्य संजय भैया के नेतृत्व में किया गया। करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि हाल ही में पूर्वी लद्दाख में नियंत्रण रेखा पर अतिक्रमण को लेकर भारत और चीन की सेनाओं के बीच तनातनी एवं हिंसक झड़प में भारतीय सेना के कर्नल संतोष बाबू एवं कई जवान शहीद होने के विरोध में संगठन के कार्यकर्ताओं ने तुगलपुर गांव स्थित बैक्सन कॉलेज के सामने चीन के राष्ट्रपति के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला फूंका। उन्होंने बताया कि कर्नल संतोष बाबू भारतीय टुकड़ी का नेतृत्व कर रहे थे जो शहीद हो गए हैं, उनकी शहादत का बदला लेने के लिए देश के प्रधानमंत्री से अपील की है कि चीन को मुंहतोड़ जवाब दिया जाए उसको उसी की भाषा में समझाया जाए तभी चीन दोहरी नीति से बाज आएगा। संगठन के जिला अध्यक्ष मास्टर दिनेश नागर ने कहा कि चीन पिछले लंबे समय से लद्दाख की गलवान घाटी में अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा रहा था। उन्होंने कहा कि चीन को मुंहतोड़ जवाब देने का समय चुका है अब भारत 1962 वाला भारत नहीं है वर्तमान समय में सशक्त भारत के रूप में विश्व में भारत में अपनी पहचान बनाई है। इस दौरान आलोक नागर, अरुण नागर, पंकज शर्मा, नवीन कुमार, आशुतोष भाटी, वकील कपासिया, निशांत तिवारी, प्रेम प्रधान, हरेंद्र कसाना, हनी डांडा, पवन दुबे आदि पदाधिकारी कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।