भारतीय किसान यूनियन अखंड ने कृषि अध्यादेशों को लेकर भारत सरकार की शुद्धि बुद्धि के लिए हवन कराया

 


विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

भारतीय किसान यूनियन अखंड के द्वारा  भारत सरकार एवं  सत्ताधारी  पार्टी की शुद्धि बुद्धि के लिए बादौली बांगर सेक्टर 155 नोएडा स्थित केंद्रीय कार्यालय में हवन पूजन कराया गया। भारतीय किसान यूनियन अखंड के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी महेश कसाना के द्वारा सभी कार्यकर्ताओं का केंद्रीय कार्यालय पर आवाहन किया गया कि भारत सरकार किसानों पर अत्याचार पर उतारू है किसान विरोधी बिल के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को कुचलने की कोशिश कर रही है। भगवान भारत सरकार को सद्बुद्धि दे। उन्हांंने कहा कि अन्नदाता के ऊपर लाठियां बरसा रहे हैं, पानी की बौछार कर रहे हैं और किसानों की नहीं सुन रहे हैं और इससे किसान त्रस्त है। किसान कड़कड़ाती ठंड में सड़कों पर रहने को मजबूर है। किसान एवं नौजवान दोनों ही सड़कों पर हैं। उन्होंने कहा कि देश के किसानों की ही देन है कि आज  भाजपा सत्ता में बैठी है और उन्हीं किसानों पर अत्याचार कर रही है। उन्होंने कहा कि यदि आज जय जवान जय किसान का नारा देने वाले किसान नायक अगर जिंदा होते तो, कितने दुखी होते। भगवान ऐसे सत्ताधीशों की अहंकारी  नीतियों और अहंकार को खत्म करें। उन्होंने कहा कि  भारतीय किसान यूनियन अखंड किसानों के साथ खड़ी है और किसानों पर अत्याचार नहीं होने देगी और रोड से लेकर संसद तक अपनी ताकत लगा देगी। उन्होंने कहा कि सरकार को चाहिए जो कृषि अध्यादेश लाए हैं उनमें  किसानों  एवं संगठनों के प्रतिनिधियों से वार्ता कर उन आदेशों में बदलाव लाएं  और  किसान हित में  कार्य करें। भारतीय किसान यूनियन अखंड इन अध्यादेशो  मे सुधार करने  की मांग करती है कि  एमएसपी  जो आपने क्लियर नहीं किया है  उसे  अध्यादेश में सम्मिलित कर  एमएसपी  को अनिवार्य रूप से  लागू करें  और एमएसपी से नीचे खरीद.फरोख्त करने वाले व्यापारी एवं कंपनियों  पर  जुर्माने एवं सजा का प्रावधान  कर  उसे लागू करवाएं  एवं  जो स्टोरेज की व्यवस्था है  उसमें  भी सुधार करें जिससे  कंपनियां  व्यापारी अव्यवस्थित तरीके से स्टोरेज कर जनता पर महंगाई की मार ना डालें। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के आधार पर  डेढ़ गुना  मुनाफे को लागू करें, सभी 60 वर्ष से ऊपर के किसानों को पेंशन दी जाए, सभी किसानों का संपूर्ण कर्ज माफ हो और कृषि उर्वरक दवाइयां एवं रसायन और कृषि उपकरण खरीद पर बिन कागज पत्र के सब्सिडी दी जाए, ट्यूबवेल के लिए बिजली की 24 घंटे बिना कटौती किए बिना आपूर्ति की जाए। इस मौके पर राष्ट्रीय महासचिव सचिन त्यागी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुरेश रावल? प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रवि भाटी, मंडल प्रवक्ता मनोज वर्मा, राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल कसाना और ओमकार भाटी, राजेश त्यागी, बालेश्वर त्यागी, शादी राम प्रधान, जय किशन भगत जी, शिवराज प्रधान, एडवोकेट रणपाल अवाना, कवर सिंह हरसाना, कपिल हरसाना, जॉनी नेताजी, राहुल शर्मा, पंडित शैलेश शर्मा आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।