यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ड्रा संपन्न

विजन लाइव/यीडा

यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण द्वारा आवासीय भूखण्ड योजना का ड्रा निकाला गया। आवासीय भूखण्ड योजना के इस ड्रा में 985 लोगों को दीपावली की सौगात के रूप में भूखण्ड मिले। ड्रा में 120 वर्ग मीटर से लेकर 4000 वर्ग मीटर के कुल 985 भूखण्ड आवंटित किए गए। आवासीय भूखंडों की इस योजना में कुल 1075 भूखण्ड उपलब्ध थे। परन्तु 5001000 4000 वर्ग मीटर के भूखण्डों के लिए कम लोगों ने आवेदन किया लिहाजा 90 भूखण्डों का ड्रा नहीं हो सका। सबसे ज्यादा मारामारी 120 162 वर्ग मीटर के आवासीय भूखण्डों की रही। यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यापालक अधिकारी डा0 अरुणवीर सिंह ने बताया कि आवासीय भूखण्डों की स्कीम में 120 वर्ग मीटर के 391, 162 वर्ग मीटर के 281, 200 के 41, 300 के 238, 500 के 41, 1000 के 74 4000 हजार वर्ग मीटर के 09 भूखण्ड सहित कुल 1075 भूखण्डों का ड्रा कराया गया। स्कीम में कुल 2452 लोगों ने आवेदन किया। ड्रा के दौरान 500 वर्ग मीटर के भूखण्ड के लिए मात्र 18 लोगों ने ही आवेदन किया जब कि भूखण्डों की संख्या 41 थी। इसी तरह 1000 वर्गमीटर के 74 भूखण्डों के लिए मात्र 14 आवेदक तथा 4000 वर्ग मीटर के 9 भूखण्डों के लिए सिर्फ 2 ही आवेदन मिले। वहीं किसान कोटे के लिए मात्र एक ही आवेदन प्राप्त हुआ। इस स्कीम में तीन पेमेंट प्लान का विकल्प दिया गया था। सबसे पहले वन टाइम पेमेंट वालों को ड्रा में वरीयता दी गई थी। ड्रा के दौरान वीडियो व फोटोग्राफी कराई गई थी। ड्रा कमेटी में सेवानिवृत्त जिला न्यायाधीश जेपी गुप्ता व रिटार्यड आईएएस टीएन सिंह शामिल थे। कोविड 19 के चलते सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। इस मौके पर यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के अपर मुख्य कार्यापालक अधिकारी रविंद्र सिंह, विशेष कार्याधिकारी शैलेंद्र भाटिया, महाप्रबंधक समेत संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।