विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

किसानों को नए भूमि अधिग्रहण कानून के 2013 के अनुसार बाजार दर का 4 गुना मुआवजा दिए जाने तथा किसानों के सभी बालिग बच्चों को स्थानिय इकाइयों में रोजगार हेतु 50 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने की मांग को लेकर ग्रेटर नोएडा के चिटहेरा गांव में दिल्ली एनसीआर क्षेत्र और पंजाब के किसान संगठनों के प्रतिनिधि जुटे। 02 अक्टूबर 2020 को महात्मा गांधी जी एवं लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के अवसर पर तथा जय जवान जय किसान मोर्चा के स्थापना दिवस के अवसर पर दिल्ली एनसीआर क्षेत्र तथा पंजाब के किसान प्रतिनिधियों ने चिटहेरा में हुई विचार गोष्ठी में भाग लिया और साथ ही किसानों को नए भूमि अधिग्रहण कानून के सभी लाभ दिए जाने तथा किसानों की फसलों के मूल्य के संबंध में केन्द्र सरकार द्वारा पास किए गए तीनों अध्यादेशों को वापस लिए जाने की मांग की। इस मौके पर जय जवान, जय किसान मोर्चा के राष्ट्रीय संयोजक नेता सुनील फौजी एडवोकेट ने कहा कि दिल्ली मुंबई औद्योगिक कॉरिडोर से प्रभावित सभी किसानों को नए कानून के अनुसार 4 गुना मुआवजा दिया जाना चाहिएं। किसान एकता संघ के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष मनीष भाटी बी.डी. सी. ने चेतावनी दी कि यदि युवाओं को रोजगार सुनिश्चित नही किया गया तो किसान अपनी जमीनों पर कब्जा नहीं देंगे। जय जवान, जय किसान मोर्चा के पंजाब प्रधान गुरदीप सिंह सिद्धू ने केंद्र सरकार द्वारा पास किए गए अध्यादेशों को वापस लिए जाने की मांग की। इस मौके पर कैप्टन बिजेंद्र भाटी, बाबा जयराम, तरसेम सिंह पटियाला, विजय भाटी एडवोकेट, पैरा कमांडो राजेन्द्र सिंह भाटी, कमांडो अशोक, श्याम सिंह, सुरेन्द्र भाटी, रणसिंह भाटी, सुरेंद्र नागर, मुबारक भाई, रामरतन नागर, संतोष सिंह, अशोक सिंह, विक्रम फौजी, नत्थी राम शर्मा, देवेन्द्र भोगपुर, कृष्णपाल पाली,लज्जा राम भाटी, रणबीर बैंसला, सतवीर टाईगर, राजकुमार, देवी सिंह दुरियाई, जीतराम,विश्वजीत मास्टर,महेश बाबुजी, कृष्ण, नरेश एडवोकेट,रूप सिंह,संजय सूबेदार, बलबीर सिंह, बाबा धर्म पाल, जीतू चैम्पियन, ऋषि प्रधान, लीलू भाटी, कंवलजीत भाटी, मंगू यादव, नरेश भाटी एडवोकेट, रवि कुमार, महेश बाल्मीकि आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।