सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने शिक्षकों के लिए कई आदर्श स्थापित कर एक मार्गदर्शक की भूमिका निभाईः अचमपाल कसाना





विजन लाइव/दनकौर

श्रीमती सुरेश देवी कॉन्वेंट स्कूल तुलसी दनकौर में 5 सितंबर-2020 शिक्षक दिवस के मौके पर डा0 राधा कृष्णन सर्वपल्ली का जन्मदिवस मनाया गया। इस मौके पर स्कूल के प्रबंधक  अचमपाल कसाना, संस्थापक सदस्य यशपाल कसाना ने दीप प्रज्वलित किया एवं पुष्पमाला अर्पित की। स्कूल प्रबंधक अचमपाल कसाना ने कहा कि सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति एवं द्वितीय राष्ट्रपति रहे और उनको सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से अलंकृत किया गया था। उन्होंने कहा कि जीवन में शिक्षक का बड़ा महत्व होता है। माता पिता के बाद शिक्षा के साथ ही जीवन की दिशा तय करने का काम शिक्षक करते हैं। सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने शिक्षकों के लिए कई आदर्श स्थापित कर एक मार्गदर्शक की भूमिका निभाई। क्या अच्छा है और क्या बुरा, यह तो शिक्षक ने ही बताया था। घर में पिता शिक्षक की भूमिका निभाता है और विद्यालय जाने पर शिक्षक सही दिशा दिखाते हैं। संस्थापक सदस्य यशपाल कसाना और  राहुल शर्मा, रिया, शीतल कसाना आदि वक्ताओं ने भी सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन के परिचय एवं उनके कार्यों के बारे में अपने अपने विचार व्यक्त किए।