सुदीक्षा भाटी के परिवार को 10000000 की आर्थिक सहायता और एक सदस्य को सरकारी नौकरी तथा ग्रेटर नोएडा में मकान दिया जाएः मनोज चौधरी



विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

दादरी क्षेत्र के डेरी स्किनर गांव निवासी सुदीक्षा भाटी की मौत के मामले में कांग्रेस नेताओं ने गांव पहुंच कर पीडित परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की और सरकार से की मांग की है कि सुदीक्षा भाटी की मौत से पर्दा उठाते हुए दोषियों को तत्काल दबोचा जाए, साथ ही आर्थिक सहायता और पीडित परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। गौतमबुद्धनगर कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी ने कहा कि सुदीक्षा भाटी सड़क हादसे में प्रकरण में सरकार न्याय दिलाने हेतु लीपा पोती कर रही है। सुदीक्षा भाटी पुत्री श्री जितेंद्र भाटी निवास ग्राम डेरी स्किनर तहसील दादरी, जिलाः- गौतमबुद्धनगर जिसको 3 करोड़ 80 लाख की छात्रवृत्ति प्राप्त थी, होनहार बेटी सुदीक्षा भाटी अमेरिका के बोस्टन कॉलेज में शिक्षा ग्रहण कर रही थी, कि दिनांक 10-08-2020 को जिला बुलंदशहर में थाना औरंगाबाद के अंतर्गत उसकी दुखद मृत्यु हो गई। उन्होंने कहा कि यह खुलासा हो रहा है कि बुलेट मोटरसाइकिल पर सवार मनचले सुदीक्षा भाटी का पीछा कर रहे थे और फब्तियां कस रहे थे। इन्होंने सुदीक्षा की बाइक को जानबूझकर हिट किया था और जिससे दुर्घटना में उसकी मृत्यु हो गई। जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी सुदीक्षा भाटी मौत प्रकरण में सरकार से मांग करती है कि सुदीक्षा भाटी की हत्या के जिम्मेदार लोगों को शीघ्र गिरफ्तार कर उन्हें सजा दिलाई जाए। वहीं स्थानीय पुलिस और प्रशासन द्वारा मामले में लीपापोती कर दोषियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है अतः इस केस की जांच हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट के सेटिंग्स द्वारा गठित एसआईटी द्वारा की जाय। पीड़ित परिवार को कम से कम 10000000 की आर्थिक सहायता दी जाए। परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी और ग्रेटर नोएडा में एक मकान दिया जाए। साथ ही सुदीक्षा भाटी प्रतिभाशाली बच्चों को आगे बढ़ाने के लिए शिक्षा भारती, शिक्षा संस्थान का संचालन कर रही थी, सरकार उसके नाम से कोई शिक्षा संस्थान अथवा योजना आरंभ करें। इस मौके पर प्रदेश महासचिव वीरेंद्र सिंह गुड्ड, बुलंदशहर जिलाधयक्ष टुककीमल खटीक, पूर्व जिलाध्यक्ष गौतमबुद्धानगर डा0 महेंद्र नागर, अशोक पंडित, दिनेश शर्मा, विक्रम नागर, रविद्र जाटव आदि कांग्रेस पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहे।