ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की सड़कों में 2 से 3 फीट गहरे गड्ढे हैं, जिनमें आए दिन दुपहिया वाहन चालक गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैः चौधरी प्रवीण भारतीय




विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा की गड्ढा युक्त सड़कों में आए दिन हो रही दुर्घटनाओं के विरोध में करप्शन फ्री इंडिया के कार्यकर्ताओं ने अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। करप्शन फ्री इंडिया ने सड़कों में हो रहे गहरे गड्ढों में पेड़ लगाकर विरोध दर्ज कराया। इस अनोखे विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व संगठन की कोर कमेटी के सदस्य संजय भैया  ने किया। करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाली अधिकतर सड़कों में 2 से 3 फीट गहरे गड्ढे हैं, जिनमें आए दिन दुपहिया वाहन चालक गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ओमीक्रोन दो एवं थर्ड के बीच से घोड़ी गांव की तरफ जाने वाली सड़क पर स्थित ओमेक्स गोल चक्कर के समीप गहरे गड्ढे हैं, जिनमें लगभग 4 से 5 फीट मिट्टी नीचे धंस चुकी है और बरसात का सारा पानी गड्ढों में नीचे जा रहा है। उन्होंने बताया कि इन गड्ढों में कार्यकर्ताओं ने पेड़ लगाकर विरोध प्रदर्शन किया है। वहीं ग्रेटर नोएडा के आईईसी चौक से रियान गोल चक्कर की तरफ भी सड़क में गहरे गड्ढे हैं,यहां भी आए दिन वाहन चालक गड्ढों में गिर रहे हैं। बरसात के इस मौसम में पानी भर जाने के कारण गड्ढे का पता तक नहीं चल पा रहा है। कोर कमेटी के सदस्य संजय भैया ने बताया कि इसके विरोध में करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने सड़कों में हो रहे गड्ढों में पौधा लगाकर के विरोध दर्ज किया है एवं यह संकेत देने का कार्य किया है कि वाहन चालक को पता चल सके कि यहां गहरा गड्ढा है और वह उस गहरे गड्ढे से बच कर निकल जाए। उन्होंने कहा कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने इन सभी गड्ढों को तत्काल प्रभाव से नहीं ठीक नही कराया तो फिर संगठन के कार्यकर्ता बडा विरोध प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान कोर कमेटी के सदस्य बलराज हूण, लोकेश राठी, धर्मेंद्र भाटी, नवीन कुमार, हबीब सैफी और बॉबी गुर्जर आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।