तालाब व शमशान घाट का सौंदर्यकरण कराएं और सभी टूटीं हुईं सड़कों को दुरुस्त किया जाए। वरना जल्द से जल्द बड़ा आंदोलन करने को ग्रामीण मजबूर होंगे

विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर
दादरी क्षेत्र के कठहेरा गांव के लोगों ने तालाब और शमशान की बदहाल स्थिति को लेकर मुख्य विकास अधिकारी को पत्र लिखा है। ग्रामीणों ने पत्र में मुख्य विकास अधिकारी से मांग की है कि तालाब व शमशान घाट का सौंदर्यकरण कराते हुए सभी टूटीं हुईं सड़कों को तत्काल दुरुस्त कराया जाए। इस पत्र में मनीष भाटी बी.डी.सी.,सुखपाल भगत जी,जयप्रकाश भाटी,नरेश भाटी एडवोकेट, संजीव भाटी,संजय भाटी,गौरव भाटी आदि ग्रामीणों ने मुख्य विकास अधिकारी को अवगत कराया है कि ग्राम.कठेहरा में तालाब की साफ़ सफ़ाई बहुत ही ख़राब है। स्थिति यह है कि तालाब के चारों तरफ़ झंडियां उगी पड़ीं हुईं हैं और गंदगी के अंबार लगे पड़ें है। लगभग 20-.25 वर्षों से तालाब की साफ़ सफ़ाई नहीं हुई है। बरसात के मौसम में पानी ऊपर तक भर जाता है और आस.पास के रास्तों पर भी गंदा पानी भर जाता है। आए दिन सांप, कीड़े.मकौड़े निकलते रहते है और दुर्घटना होने का डर बना रहता है। वही दूसरी सबसे बडी परेशानी शमशान घाट की बनी हुई हैं। शमशान के रास्ते भी टूटे पड़ें है चारों तरफ़ झाड़ियां उगी हुई है, साफ़ सफ़ाई भी नहीं हुई है। काफ़ी वर्षों से ग्रामपंचायत का भी ध्यान भी इस ओर नही गया है। साथ ही संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा सही ढंग से कार्य नहीं हो रहा है और इस अनदेखी के कारण सभी ग्रामवासियों में आक्रोश है। शमशान घाट के रास्ते में निकलने में बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है। जब अंतिम संस्कार के लिए जाते हैं तो बडी दिक्कत होती है। इस बात की कई बार तहसील दिवस में भी शिकायत कर चुके है। पत्र में ग्रामीणों ने मुख्य विकास अधिकारी को आंदोलन की चेतावनी देते हुए मांग की है कि तालाब व शमशान घाट का सौंदर्यकरण कराएं और सभी टूटीं हुईं सड़कों को दुरुस्त किया जाए। वरना जल्द से जल्द बड़ा आंदोलन करने को ग्रामीण मजबूर होंगे।